रोहतक : किसानों ने पूर्व राज्यमंत्री समेत कई BJP नेताओं को बनाया बंधक

रोहतक

केंद्र की तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन लगातार जारी है। हरियाणा के नारनौंद में जहां शुक्रवार को कुछ असामाजिक तत्वों ने भाजपा सांसद रामचंद्र जांगड़ा की कार पर हमला कर दिया, वहीं रोहतक जिले के किलोई गांव में प्रदर्शनकारी किसानों ने कथित तौर पर कई भाजपा नेताओं को बंधक बनाकर उनके खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हरियाणा के रोहतक में कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने राज्य के पूर्व सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर समेत कई भाजपा नेताओं को गांव के एक मंदिर में बंधक बना लिया। प्रदर्शनकारियों ने इन नेताओं की गाड़ियों की हवा भी निकाल दी। इसकी जानकारी मिलते ही भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया।

अखिल भारतीय किसान सभा के जिलाध्यक्ष प्रीत सिंह ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ने इन 3 कृषि कानूनों को निरस्त करने और एमएसपी पर कानून बनने तक भाजपा-जेजेपी पार्टी नेताओं के बहिष्कार का आह्वान किया गया है। यह जानते हुए भी कि गांवों में उनका सामाजिक बहिष्कार किया जाता है, ये नेता ग्रामीणों की अनुमति लिए बिना यहां आए। हमारी मांग है कि वे ग्रामीणों से माफी मांगें और दोबारा ऐसा न करें।

भाजपा सांसद की कार का शीशा तोड़ा गया
इससे पहले हरियाणा के ही नारनौंद में भाजपा सांसद रामचंद्र जांगड़ा की हिसार जिले की यात्रा को लेकर किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान कुछ शरारती तत्वों ने कथित तौर पर लाठियां मारकर उनकी कार का शीशा तोड़ दिया। विरोध-प्रदर्शन के दौरान भाजपा सांसद रामचंद्र जांगड़ा को काले झंडे भी दिखाए। हालांकि, इस घटना में किसी को चोट नहीं आई। मंत्री ने इस घटना को ”हत्या का स्पष्ट प्रयास” बताया है।

केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान हरियाणा की सत्तारूढ़ भाजपा और जननायक जनता पार्टी (जजपा) के नेताओं के कार्यक्रमों का विरोध कर रहे हैं। पुलिस के अनुसार, हिसार के नारनौंद में काले झंडे लेकर प्रदर्शनकारियों के एक समूह ने जांगड़ा का मार्ग अवरुद्ध कर दिया। पुलिस ने कहा कि बाद में रास्ता खुलवाया गया, जिससे राज्यसभा सदस्य को आगे बढ़ने दिया गया।

About bheldn

Check Also

चीनी सेना ने अरुणाचल के युवक को किया अगवा, सांसद ने ट्विटर पर लगाई मदद की गुहार!

अपर सियांग चीनी सेना ने मंगलवार को एक भारतीय नागरिक को अगवा कर लिया। अरुणाचल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *