वानखेड़े का पार्टनर है कंबोज; मलिक ने बताया कौन है NCB की चांडाल चौकड़ी

नई दिल्ली

आर्यन खान ड्रग केस में एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर ताबड़तोड़ आरोप लगाने वाले महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने आज यानी रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले में छिपे कई राज खोले और दावा किया कि भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष मोहित कंबोज वसूली कांड का मास्टरमाइंड है और समीर वानखेड़े का पार्टनर है। इतना ही नहीं, सुनील पाटिल और एनसीपी के बीच रिश्ते के आरोपों को खारिज करते हुए नवाब मलिक ने कहा कि पाटिल का एनसीपी के साथ कोई संबंध नहीं है और न ही वह कभी मिले हैं। उन्होंने समीर वानखेड़े को एनसीबी की चांडाल चौकड़ी का सदस्य बताया और बर्खास्त करने की मांग की।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में नवाब मलिक ने दावा किया कि आर्यन खान ने क्रूज पार्टी का टिकट नहीं खरीदा। आर्यन खुद नहीं गया। प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचरवाला ही आर्यन को वहां लेकर गए थे। इन दोनों के जरिए ही आर्यन को ट्रैप कर ले जााय गया। यह पूरी तरह से अपहरण और फिरौती का मामला है। मोहित कंबोज के साले के जरिए ट्रैप लगाई गई और वहां आर्यन खान को पहुंचाया गया और किडनैप करके 25 करोड़ की फिरौती मांगने का खेल शुरू हुआ। सौदा 18 करोड़ में हुआ, पचास लाख वसूल भी हो गई, मगर एक सेल्फी ने खेल बिगड़ गया। मोहित कंबोज फिरौती मांगने में समीर वानखेड़े का पार्टनर है और मास्टरमाइंड है। दोनों के बीच अच्छे रिश्ते हैं। मोहित कंबोज इस शहर में 12 होटल चलाता है।

उन्होंने कहा कि मोहित कंबोज और समीर वानखेड़े की मुलाकात 7 अक्टूबर को ओशिवारा कब्रिस्तान के बाहर हुई थी। इस मुलाकात के बाद वानखेड़े घबरा गए और पुलिस से शिकायत की कि उनका पीछा किया जा रहा है। मगर इनका नसीब अच्छा है कि पास का सीसीटीवी काम नहीं कर रहा था और हमें फीड नहीं मिली। वानखेड़े का एक ही उद्देश्य है कि ड्रग का धंधा चलता रहे। बड़े घर के लोगों की जानकारी हासिल करके वे हजारों कड़ोर की उगाही का खेल वे खेल रहे हैं। उन्होंने कहा कि एनसीबी को अपनी चांडाल चौकड़ी को बर्खास्त करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि मोहित कंबोज पर 1100 करोड़ रुपये के बैंक धोखाधड़ी का आरोप था।

नवाब मलिक ने आगे कहा कि कंबोज फ्रॉड है और वह कह रहा है कि वह डेढ़ साल से पार्टी में नहीं है तो ऐसे लोगों को भाजपा को बचाव नहीं करना चाहिए। उन्होंने भाजपा को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे लोगों का बचाव नहीं कीजिए जिनका इतिहास ही काला है। नवाब मलिक ने एनसीबी के चार अफसरों को चांडाल चौकड़ी का नाम दिया और कहा कि एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े, आशीष रंजन, वीवी सिंह और एनसीबी अधिकारी के ड्राइवर माने, ये चारों एनसीबी की चांडाल चौकड़ी हैं। उन्होंने एनसीबी से इन चारों को हटाने की मांग की।

नवाब मलिक ने कहा कि मेरी लड़ाई न तो भाजपा से है और न ही एनसीबी से। उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि महाराष्ट्र नशा से मुक्त हो। उन्होंने कहा कि मैं किसी से न तो डरता हूं और न ही चूप होऊंगा। मैं बोलता रहूंगा। मैं सच का साथ दूंगा। उन्होंने अपनी इस लड़ाई में अन्य लोगों को साथ आने का आव्हान किया। बता दें कि 2 अक्टूबर को एनसीबी ने मुंबई क्रूज शिप पर छापेमारी की थी और ड्रग्स बरामद किए थे। इसके बाद तीन अक्टूबर को शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था। तकरीबन 22 दिन ऑर्थर रोड जेल में रहने के बाद आर्यन जमानत पर बाहर निकले थे।

About bheldn

Check Also

प्रयागराज: तोड़फोड़ केस में 1000 पर FIR, छात्रों की पिटाई मामले में 6 पुलिसकर्मी सस्पेंड

लखनऊ, मंगलवार को प्रयागराज में छात्रों ने नौकरी ना मिलने को लेकर जोरदार विरोध प्रदर्शन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *