मोदी का स्वागत करने वाली बुर्केवाली महिलाओं की असलियत पर सवाल उठे

भोपाल,

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भोपाल दौरे के दौरान होशंगाबाद रोड पर जिन बुर्केधारी महिलाओं की भीड़ तख्तियां लेकर उनके स्वागत में खड़ी थी, उस पर अब सवाल खड़े हो रहे हैं। कांग्रेस ने उन महिलाओं पर सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि वे मुस्लिम नहीं थीं बल्कि दूसरे समुदाय की थीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को भोपाल दौरे में बरकतउल्ला विश्वविद्यालय से रानी कमलापति रेलवे स्टेशन तक सड़क के रास्ते गए थे।

उनके काफिले का करीब ढाई किलोमीटर के रास्ते में कई जगह स्वागत किया गया था। गेंदे के फूलों से एक जगह उनके काफिले पर ऐसी बारिश की गई थी कि मोदी की बुलटप्रुफ कार ही ढंक गई थी। रास्ते में ही बड़ी संख्या में बुर्केवाली महिलाओं की भीड़ लेकर पूर्व महापौर आलोक शर्मा पहुंचे थे और मोदी का उनके माध्यम से स्वागत कराया था। इन महिलाओं के हाथ में तीन तलाक के लिए धन्यवाद की तख्तियां भी थीं।

कांग्रेस का दावा महिलाएं मुस्लिम नहीं थीं
प्रदेंश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने आज इस फोटो में एक महिला के हाथ में बंधा कलावा को दिखाते हुए ट्विटर पर एक पोस्ट डाली है। इसमें उन्होंने लिखा है कि देशभर में इस तस्वीर से खूब प्रचार प्रसार किया गया था। मगर इस फोटो की असलियत कुछ और है।

About bheldn

Check Also

योगी आदित्यनाथ या अखिलेश यादव किसके सर बंधेगा जीत का सेहरा, क्‍या कहता है ताजा सर्वे

लखनऊ राजनीतिक पंडित यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव के बीच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *