सरकार ने बदले PM Kisan के नियम, नहीं दिया यह डॉक्युमेंट तो रुक जाएगी किस्त

सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना के नियमों को बदल दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार ने इस योजना में हो रहे फर्जीवाड़े को रोकने के लिए यह कदम उठाया है। नए नियमों के तहत इस योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए राशन कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है। अब किसानों को अन्य डॉक्युमेंट्स के साथ राशन कार्ड भी देना होगा। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो उनकी किस्त रुक जाएगी।

राशन कार्ड देना अनिवार्य
राशन कार्ड का नंबर आने के बाद ही पीएम किसान सम्‍मान निधि योजना का लाभ मिल पाएगा। इस योजना के तहत अब नए पंजीकरण कराने पर राशन कार्ड नंबर देना अनिवार्य होगा। इसके अलावा दस्‍तावेज की सॉफ्ट कॉपी बनाकर पोर्टल पर अपलोड करनी होगी। अगर आप पहली बार पीएम किसान योजना के तहत रजिस्ट्रेशन कराते हैं तो आपको राशन कार्ड का नंबर अपलोड करना होगा। साथ ही इसे पीडीएफ (PDF) में भी अपलोड करना होगा।

डॉक्युमेंट्स करने होंगे अपलोड
साथ ही अब खाता-खतौनी, आधार कार्ड, बैंक पासबुक और डिक्लरेशन की हार्डकॉपी जमा करने की अनिवार्यता खत्‍म कर दी है। अब इन दस्तावेजों की पीडीएफ फाइल बनाकर पोर्टल पर अपलोड करना होगा। इससे पीएम किसान योजना में होने वाला फर्जीवाड़ा कम हो जाएगा। साथ ही रजिस्ट्रेशन पहले से आसान होगा। इस योजना के लिए पुरुष या महिला किसान कोई भी आवेदन कर सकता है। लेकिन पति-पत्नी में से कोई एक ही इसके लिए आवेदन कर सकता है। यानी इसका फायदा किसी एक को ही मिलेगा।

क्यों बदले नियम
सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi) के नियमों को बदल दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार ने इस योजना में हो रहे फर्जीवाड़े को रोकने के लिए यह कदम उठाया है। नए नियमों के तहत इस योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए राशन कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है। अब किसानों को अन्य डॉक्युमेंट्स के साथ राशन कार्ड (Ration card) भी देना होगा। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो उनकी किस्त रुक जाएगी।

कब आएगी अगली किस्त
देश के छोटे और सीमांत किसानों के लिए पीएम किसान योजना की शुरुआत की गई थी। इसके तहत किसानों को साल में 3 किस्तों में 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती है। हर 4 महीने में किसानों के खाते में 2,000 रुपये ट्रांसफर किए जाते हैं। अब तक पीएम किसान की 9 किस्तें किसानों के अकाउंट ट्रांसफर की जा चुकी है। यानी हर लाभार्थी को 18,000 रुपये मिल चुके हैं। इसकी दसवीं किस्त दिसंबर में रिलीज की जा सकती है।

क्यों नहीं मिल रहा योजना का लाभ
कृषि मंत्रालय के मुताबिक लाखों किसानों को आवेदन करने के बाद भी इसलिए पैसा नहीं मिल सका है क्योंकि या तो उनके रेकॉर्ड में गड़बड़ी है या फिर आधार कार्ड नहीं है। नाम की स्पेलिंग में गड़बड़ी से भी पैसा रुक सकता है। अगर कागजात दुरुस्त रहे तो सभी 11.35 करोड़ रजिस्टर्ड किसानों को लाभ मिलेगा। इसलिए अपना रेकॉर्ड चेक कर लें। ताकि पैसा मिलने में दिक्कत न हो। रेकॉर्ड में कोई भी गड़बड़ी होगी तो निश्चित तौर पर आपको योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा।

ऐसे चेक करें अपना रेकॉर्ड
सबसे पहले आपको पीएम किसान (PM Kisan) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर विजिट करना होगा। यहां आपको राइट साइड पर Farmers Corner का ऑप्शन दिखेगा। इसके बाद Beneficiary Status में क्लिक करने पर एक नया पेज खुलेगा। इस नए पेज में आधार नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, मोबाइल नंबर में से किसी एक ऑप्शन को सेलेक्ट करना होगा। आप कोई ऑप्शन सेलेक्ट कर लीजिए और इसके बाद Get Data पर क्लिक करना है। इसके बाद आपको ट्रांजैक्शन की पूरी जानकारी मिल जाएगी। यानी कौन सी किस्त आपके अकाउंट में कब आई और किस बैंक में क्रेडिट हुई है।

About bheldn

Check Also

1500 नौकरी पर संकट, निकालने की तैयारी कर रही है ये कंपनी

नई दिल्ली, देश में अगर कोई एक कंपनी ऐसी है जिसका कोई ना कोई सामान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *