महीने भर में दोनों डोज लेने वालों को पहले म‍िलेगी बूस्‍टर डोज? आने वाली है नई वैक्‍सीन पॉलिसी!

पुणे

कोविड वैक्‍सीन की बूस्‍टर डोज को लेकर एक नीति का ऐलान इस महीने के आखिर तक हो सकता है। राष्‍ट्रीय टास्‍क फोर्स के एक वर‍िष्‍ठ सदस्‍य ने कहा कि प्राथमिकता सबसे पहले वयस्‍क टीकाकरण कार्यक्रम को पूरा करने की होगी। टीकाकरण पर बना राष्‍ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (NTAGI) नीतियों को अंतिम रूप देगा।

31 दिसंबर के टारगेट पर नजर
टास्‍क फोर्स के सदस्‍य ने कहा, ‘भारतीय महामारीविदों और देश में महामारी के हालात के आधार पर एक विस्‍तृत नीति जल्‍द आने वाली है। अगले दो हफ्तों में बैठक हो जानी चाहिए।’ उन्‍होंने कहा क‍ि पॉलिसी भले ही तैयार हो रही हो मगर जोर वयस्‍क टीकाकरण कार्यक्रम को पूरा करने पर होगा। फोकस इस बात पर रहेगा कि 31 दिसंबर तक सभी वयस्‍क लाभार्थियों को पहली डोज लग जाए।

अभी तक देश की 80 फीसदी से ज्‍यादा वयस्‍क आबदी को वैक्‍सीन की पहली डोज लग चुकी है। 41% से ज्‍यादा 18+ आबादी ऐसी है जिसे दोनों डोज लग चुकी हैं। हाल की एक बैठक में अधिकतर राज्‍यों ने हेल्‍थ वर्कर्स के लिए बूस्‍टर डोज की मांग रखी है।

‘बूस्‍टर के चक्‍कर में कहीं कोई छूट न जाए’
इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के महामारी विज्ञान और संक्रामक रोग प्रभाग के प्रमुख डॉ समिरन पंडा ने कहा कि बूस्‍टर डोज या तीसरे शॉट पर चर्चा में यह जरूरी है कि ध्‍यान दो डोज वाले कार्यक्रम से भटके नहीं। उन्‍होंने हमारे सहयोगी टाइम्‍स ऑफ इंडिया से कहा, ‘तीसरी डोज की बात उन लोगों के लिए हो रही है जो इम्‍युनोसप्रेस्‍ड हैं, जिनमें पर्याप्‍त इम्‍युनिटी नहीं बन पा रही।’

बहरहाल, एक्‍सपर्ट्स ने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों को उन लोगों को ध्‍यान में रखना चाहिए जिन्‍हें शुरुआत में वैक्‍सीन दी गई थी। इन लोगों को अभी के 84 दिन के बजाय छह हफ्तों के भीतर वैक्‍सीन की दोनों डोज दी गई थीं। इनमें सीनियर सिटिजंस, कोमॉर्बिडिटीज वाले लोग और हेल्‍थ व फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल हैं। चूंकि इन लोगों को कम समय में वैक्‍सीनेट कर दिया गया, उनके एंटीबॉडीज लेवल्‍स अब कम हो गए होंगे और उन्‍हें बूस्‍टर्स की जरूरत पड़ेगी।

About bheldn

Check Also

योगी आदित्यनाथ या अखिलेश यादव किसके सर बंधेगा जीत का सेहरा, क्‍या कहता है ताजा सर्वे

लखनऊ राजनीतिक पंडित यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव के बीच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *