वसीम रिजवी की किताब ‘मोहम्मद’ में ऐसा क्या कि जिससे खफा हैं मुस्लिम, ओवैसी ने करवा दिया मुकदमा

नई दिल्ली

उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी फिर सुर्खियों में हैं। उनकी किताब ‘मोहम्मद’ पर बवाल मचा है। मुस्लिम समुदाय रिजवी पर आगबबूला है। अयोध्या में मुसलमानों ने प्रदर्शन किया तो हैदराबाद में रिजवी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई गई है। रिजवी ने पहली बार यह तूफान खड़ा नहीं किया है। उन्होंने इससे पहले सुप्रीम कोर्ट में याचिका देकर कुरान की 24 आयतों को कट्टरता और आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला बताया था और इन आयतों को कुरान से निकालने का आदेश देने की मांग की थी। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने उनकी याचिका खारिज कर दिया था।

ओवैसी पर भड़के रिजवी
रिजवी अपने ऊपर दर्ज मुकदमे से ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर भड़क गए हैं। उनका आरोप है कि ओवैसी ने ही उनपर एफआईआर करवाई है। रिजवी ने रविवार शाम एक यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘असदुद्दीन ओवैसी (एआईएमआईएम चीफ) हमारे खिलाफ एफआईआर करवा रहा है तो भाई एफआईआर करवाने से क्या मतलब हुआ? हमने तुम्हारी किताबों के हवाले से किताब लिखा तो उन किताबों के हवाले से जवाब दे दो, अपनी किताबों को जला दो, अपने में इंसानियत पैदा कर लो, तुम इंसानियत का मजहब अख्तियार कर लो, हम अपनी किताब को वापस ले लेंगे।’

‘दुनिया के हर व्यक्ति को पढ़नी चाहिए मेरी किताब’
यूट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान रिजवी ने कई तीखी बातें कहीं। अपनी विवादित किताब पर उन्होंने कहा कि इसे मुसलमानों समेत दुनिया के हर व्यक्ति को पढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर कोई इसे पढ़ेगा तो वह धर्मांतरण करके इस्लाम नहीं अपनाएगा।

350 रेफरेंस देकर लिखी है किताब: रिजवी
उनका दावा है कि किताब में लिखी बातों के लिए उन्होंने 350 रेफरेंस दिए हैं। उन्होंने कहा, ‘इस किताब को पढ़ना बहुत जरूरी है। मैंने वो हिडन फैक्ट्स ढूंढ-ढूंढ के निकाले हैं जो जल्दी मुहैया नहीं हो सकते और सबूत के साथ निकाले हैं, 350 रेफरेंस हैं उसमें किताबों के।’

ओवैसी ने रिजवी पर दर्ज कराया मुकदमा
ध्यान रहे कि एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी और पार्टी के अन्य नेताओं ने पिछले सप्ताह बुधवार को हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अजंनी कुमार से मुलाकात की। ओवैसी ने रिजवी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। रिजवी पर आरोप है कि उन्होंने अपनी किताब में आपत्तिजनक चीजें लिखी हैं।

About bheldn

Check Also

‘साबित हो गया! चौकीदार ही जासूस है’, Pegasus को लेकर खुलासे पर कांग्रेस हमलावर

नई दिल्ली, जासूसी सॉफ्टवेयर पेगासस डील पर न्यूयॉर्क टाइम्स की नई रिपोर्ट ने कड़ाके की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *