कोरोना: नए वेरिएंट ‘ओमीक्रोन’ से दहशत! भारत के लिए कितना खतरा?

पूरी दुनिया में कोरोना के नए वेरिएंट ‘ओमीक्रोन’ को लेकर चिंता की लहर है। ऐसे देशों की संख्‍या बढ़ती जा रही है जहां से इसके मामले सामने आ रहे हैं। इस लिस्‍ट में ब्रिटेन, जर्मनी, इटली, चेक रिपब्लिक का नाम भी जुड़ गया है। ओमीक्रोन के खौफ से न्यूयॉर्क में ‘आपातकाल’ की घोषणा कर दी गई है। वैज्ञानिकों का कहना है कि ‘महामारी 2.0’ आ सकती है।

कोरोना के नए वेरिएंट ‘ओमीक्रोन’ के खतरे को देखते हुए इजरायल ने सभी विदेशी नागरिकों के लिए सीमाएं बंद कर दी हैं। इजरायल उन देशों में से हैं जहां इस वेरिएंट के मामले सामने आ चुके हैं।हालांकि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने शनिवार को कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। ICMR ने लोगों से वैक्‍सीन की दूसरी डोज लेने में देरी ना करने की अपील की है। ICMR के समिरन पंडा ने कहा कि अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं कि यह ज्‍यादा संक्रामक है।

20 से ज्‍यादा देशों ने अफ्रीकी देशों और हांग कांग से आने वाली फ्लाइट्स बैन कर दी हैं। कुछ ने आउटब्रेक वाले देशों के लोगों की एंट्री पर‍ प्रतिबंध लगाए हैं। भारत में अभी तक अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों को बंद करने का फैसला नहीं हुआ है। हालांकि एयरपोर्ट्स पर निगरानी बढ़ाने के निर्देश दिए जा चुके हैं। बेंगलुरु में साउथ अफ्रीका के दो नागरिक पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्‍हें क्‍वारंटीन सेंटर भेजा गया है।

अमेरिका, ब्राजील, कनाडा, यूरोपियन यूनियन, जापान, पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश, बहरीन जैसे देशों ने अफ्रीकी देशों और हांग कांग से आने वाली फ्लाइट्स सस्‍पेंड कर दी हैं। इजरायल में सभी विदेशी नागरिकों की एंट्री पर रोक है। UK में आने पर PCR टेस्‍ट अनिवार्य कर दिया गया है, तब तक क्‍वारंटीन रहेंगे।आपको बता दें कि साउथ अफ्रीका में सामने आने के बाद कुछ दिन बाद ही नया कोरोना वेरिएंट यूरोप के कई देशों तक पहुंच गया है। इनमें बेल्जियम, बोत्‍सवाना, हांग कांग, ब्रिटेन, इजरायल, चेक रिपब्लिक, इटली, जर्मनी, नीदरलैंड्स शामिल हैं।

दुनिया भर के वैज्ञानिक नए कोरोना वेरिएंट ‘ओमीक्रोन’ को डिकोड करने में लगे हुए हैं। यूरोप, अमेरिका और अफ्रीका की लैब्‍स में टेस्‍ट किए जा रहे हैं ताकि यह समझा जा सके कि वैक्‍सीनेटेड लोगों पर यह वेरिएंट कैसा असर करता है। साउथ अफ्रीका में आउटब्रेक पर भी दुनिया की नजरें है जिससे यह पता चलेगा कि यह कितना ज्‍यादा संक्रामक है। कई देशों ने यात्रा प्रतिबंधों को फर्स्‍ट डिफेंस की तरह अप्‍लाई किया है।

About bheldn

Check Also

कर्नाटक में फिर होगा राजनीतिक उठापटक? सिद्धारमैया के दावे से कयास तेज

नई दिल्ली कर्नाटक के पूर्व सीएम और विधानसभा में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने दावा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *