मथुरा: मस्जिद में कृष्ण की मूर्ति स्थापित करने की धमकी के बाद धारा 144

मथुरा

यूपी के मथुरा में अखिल भारत हिंदू महासभा की घोषणा के बाद सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी है। महासभा ने घोषणा की थी कि मथुरा में एक प्रमुख मंदिर के पास मस्जिद हैं जहां पर भगवान कृष्ण की मूर्ति स्थापित की जाएगी। इस खबर के बाद से मथुरा के अफसरों में हड़कंप मच गया। शहर में शांतिभंग की आशंका के चलते धारा 144 को लागू कर दिया गया है। डीएम नवनीत सिंह चहल ने कहा, मथुरा में किसी को भी शांति भंग करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

एक और दक्षिणपंथी संगठन नारायणी सेना ने कहा है कि वह मस्जिद को हटाने की मांग को लेकर विश्राम घाट से श्रीकृष्ण जन्मस्थान तक मार्च निकालेगी। पुलिस ने कहा कि उन्होंने मथुरा कोतवाली में नारायणी सेना के सचिव अमित मिश्रा को हिरासत में लिया है, जबकि संगठन का दावा है कि उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष मनीष यादव को लखनऊ में हिरासत में लिया गया है। चहल ने कहा कि उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर के साथ दोनों धार्मिक स्थलों, कटरा केशव देव मंदिर और शाही ईदगाह की सुरक्षा की समीक्षा की।

उन्होंने कहा कि महासभा ने मस्जिद में मूर्ति स्थापित करने की अनुमति मांगी थी, लेकिन इसे ठुकरा दिया गया। चहल ने कहा कि शांतिभंग करने वाले किसी भी कार्यक्रम को अनुमति देने का सवाल ही नहीं उठता। हिंदू महासभा की नेता राज्यश्री चौधरी ने पहले कहा था कि उनका संगठन 6 दिसंबर को जगह को शुद्ध करने के लिए महाजलाभिषेक के बाद शाही ईदगाह में भगवान कृष्ण की मूर्ति स्थापित करेगा। यह तारीख 1992 में मंदिर-मस्जिद विवाद के स्थल अयोध्या में बाबरी मस्जिद के विध्वंस का प्रतीक है। शाही ईदगाह के अंदर अनुष्ठान करने के लिए महासभा की धमकी ऐसे समय में आई है जब स्थानीय अदालतें 17वीं शताब्दी की मस्जिद को हटाने की मांग वाली याचिकाओं की एक श्रृंखला पर सुनवाई कर रही हैं।

About bheldn

Check Also

यूपी के डिप्टी सीएम के विरोध वाला VIDEO झूठा, भाजपा ने कहा- दुष्प्रचार कर रहा विपक्ष

कौशांबी, उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का विरोध कर रही कुछ महिलाओं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *