कांग्रेस बिना विपक्षी मोर्चा संभव नहीं: ममता-पवार की बैठक से पहले मलिक

नई दिल्ली

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी दो दिन के दौरे पर मंगलवार को मुंबई पहुंची। ममता बनर्जी के इस दौरे के बाद से एक बार फिर से बीजेपी के खिलाफ तीसरे मोर्चे की चर्चा तेज हो गई है। मुंबई पहुंची ममता बनर्जी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के मुखिया शरद पवार से बुधवार को मुलाकात करेंगी। शरद पवार से मुलाकात को लेकर राजनीतिक गलियारों में ऐसी चर्चा शुरू हो गई है कि ममता बनर्जी कांग्रेस से दूरी बनाते हुए क्षेत्रीय दलों को एकजुट करने का प्रयास कर रही हैं।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री और एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने मंगलवार को पुष्टि की कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार दोपहर को राकांपा प्रमुख शरद पवार से मुलाकात करेंगी। रिपोर्ट के मुताबिक मलिक ने कहा ‘ममता दीदी महाराष्ट्र के दौरे पर हैं और कल दोपहर 3 बजे पवार साहल से मुलाकात करेंगी। हालांकि मलिक ने ममता के इस यात्रा को सद्भावना यात्रा करार देते हुए कहा कि एनसीपी प्रमुख से मुलाकात के बाद वह मीडिया से बात करेंगी और मीटिंग के बारे में जानकारी साझा करेंगी।’

एक सवाल के जवाब में मलिक ने कहा कि हर पार्टी को अपना आधार बढ़ाने का प्रयास करने का पूरा अधिकार है, लेकिन कांग्रेस को बाहर रखकर बीजेपी के विरोधियों को एकजुट करना असंभव है। मलिक ने कहा ‘बंगाल के बाहर टीएमसी का विस्तार हो रहा है और यह हर राजनीतिक दल का अधिकार है। हालांकि, हम मानते हैं कि कांग्रेस को छोड़कर एक संयुक्त विपक्षी मोर्चा संभव नहीं है। पवार साहब भी कई बार इसे स्पष्ट कर चुके हैं।’

वहीं, उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों पर एक सवाल के जवाब में, मलिक ने कहा कि अधिकांश राजनीति से प्रेरित थे और सच्चाई जल्द ही सामने आएगी। बता दें कि मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में गिरफ्तारी के बाद से नवाब मलिक लगातार सुर्खियों में रहे हैं। खासकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के खिलाफ वो लगातार एक के बाद एक बड़े दावे किए हैं।

About bheldn

Check Also

यूपी के डिप्टी सीएम के विरोध वाला VIDEO झूठा, भाजपा ने कहा- दुष्प्रचार कर रहा विपक्ष

कौशांबी, उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का विरोध कर रही कुछ महिलाओं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *