जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप: बेल्जियम को हराकर भारत ने सेमीफाइनल में बनाई जगह

भुवनेश्वर

भारत ने जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। बुधवार को भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में हुए क्वॉर्टर फाइनल मुकाबले में भारत ने बेल्जियम को 1-0 से मात दी। भारत की ओर से दूसरे क्वॉर्टर में शारदा नंद तिवारी का गोल विजयी साबित हुआ। इसके साथ ही भारतीय डिफेंस कमाल का रहा और असल में दोनों टीमों के बीच यही असली अंतर साबित हुआ।

सेमीफाइनल में गत चैंपियन भारत का सामना छह बार की विजेता जर्मी से होगा। जर्मनी इस टूर्नमेंट की सबसे कामयाब टीम है।बेल्जियम ने क्वॉर्टर फाइनल मुकाबले की आक्रमक शुरुआत की। पहले क्वॉर्टर में उसने कई हमले किए और भारतीय रक्षापंक्ति को दबाव में ला दिया। हालांकि जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ा भारतीय टीम ने लय हासिल करनी शुरू कर दी। भारतीय टीम की अग्रिम पंक्ति ने अच्छा तालमेल दिखाया। बेल्जिमय के गोलकीपर बॉरिस फेल्दिम ने कुछ अच्छे बचाव किए।

बेल्जियम को दूसरे क्वॉर्टर की शुरुआत में आगे निकलने का अच्छा मौका मिला था। लेकिन आखिरी सेकंड पर संजय ने बचाव कर खतरा टाल दिया। संजय इस टूर्नमेंट में भारत के लिए सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी हैं। दूसरे क्वॉर्टर में पांच मिनट का वक्त बीता था कि भारत को पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला। इस मौके को शारदा नंद तिवारी चूके नहीं और उनके स्टिक से निकली गेंद बेल्जियम के गोल पोस्ट में जा पहुंची।

हाफ टाइम से चार मिनट पहले बेल्जियम को अपना पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला। लेकिन उसके खिलाड़ी इसका फायदा नहीं उठा पाए और हिट गोल पोस्ट से दूर गई। भारतीय टीम हाफ टाइम तक 1-0 से आगे थी।तीसरे क्वॉर्टर में बेल्जियम ने बराबरी की भरपूर कोशिश की। लेकिन बेल्जियम की अग्रिम पंक्ति मौकों को अंजाम तक पहुंचाने में नाकाम रही। इसके साथ ही भारतीय डिफेंस ने भी बखूबी काम किया। भारतीय गोलकीपर पवन ने कई अच्छे बचाव किए।

आखिरी क्वॉर्टर में बेल्जियम ने अपना सब कुछ झोंक दिया। लेकिन पवन ने कमाल के बचाव किए और भारतीय बढ़त को कम नहीं होने दिया। भारतीय गोलकीपर ने सिर्फ दो मिनट बाकी रहते लगातार दो पेनल्टी कॉर्नर बचाकर भारत को जीत दिला दी।आखिरकार तिवारी का गोल भारत को जीत दिलाने के लिए काफी साबित हुआ। भारत ने पूल बी में दूसरे स्थान पर रहते हुए क्वॉर्टर फाइनल में जगह बनाई थी वहीं बेल्जियम पूल ए में टॉप पर रहा था।संयोग से भारत और बेल्जियम हॉकी के बीच साल 2016 के जूनियर वर्ल्ड कप के फाइनल में भिड़े थे। भारत ने लखनऊ में हुए मुकाबले में बेल्जियम को हराकर खिताब जीता था।

About bheldn

Check Also

Corona संकट के बीच भारत में ही IPL कराने की तैयारी, BCCI ने बनाया ये प्लान!

नई दिल्ली, इंडियन प्रीमियर लीग 2022 का सीजन नज़दीक आ रहा है. इस बार आईपीएल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *