राजस्थान में भी पहुंचा ओमीक्रोन, एक ही परिवार के 9 लोग कोरोना के नए वेरिएंट से संक्रमित

नई दिल्ली

कोरोना के खतरनाक ओमिक्रॉन वैरिएंट संक्रमितों के साथ ही टेंशन भी बढ़ा रहा है. लिहाजा अब तक 12 केस इस वैरिएंट के सामने आ चुके हैं. सबसे ज्यादा मामले राजस्थान में सामने आए हैं. यहां 9 संक्रमित पाए गए हैं. वहीं महाराष्ट्र में अब तक 8 लोगों में ओमिक्रॉन वैरिएंट की पुष्टि हो चुकी है. जबकि कर्नाटक में दो, गुजरात में एक और राजधानी दिल्ली में भी एक संक्रमित मरीज मिल चुका है.

जयपुर में 9 केस
ओमिक्रॉन वैरिएंट देश के हर राज्य में धीरे-धीरे पैर पसार रहा है. ऐसे में राजस्थान के जयपुर में इस वैरिएंट के 9 मरीज सामने आए हैं. जो कि अभी तक देशभर में सबसे ज्यादा हैं. बता दें कि दक्षिण अफ्रीका से लौटने के बाद एक परिवार के सैंपल लेकर जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए थे. जिसमें 9 लोगों में संक्रमण की बात सामने आई है.

चिकित्सा सचिव वैभव गालरिया ने बताया कि विभाग ने दक्षिण अफ्रीका से आए परिवार को आरयूएचएस में भर्ती करवा दिया था. उनके संपर्क में आए 5 अन्य लोग भी संक्रमित पाए गए हैं, इन्हे भी आरयूएचएस में एडमिट किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि दक्षिण अफ्रीका से आए परिवार और उनके कॉन्टैक्ट में आए 34 लोगों के सैंपल लिए गए थे, जिनमें से 9 लोग कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से पॉजिटिव पाए गए हैं.

महाराष्ट्र में 8 केस
महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित मरीजों की संख्या 8 हो गई है. रविवार को 7 नए मामले सामने आए. इसमें एक ही परिवार के 6 लोग शामिल हैं, जो नाइजीरिया से लौटे थे. जानकारी के मुताबिक एक 44 साल की महिला बीते 24 नवंबर को नाइजीरिया के लागोस से पिंपरी-चिंचवड़ नगरपालिका इलाके में अपने भाई से मिलने के लिए आई हुई थी. जिसके बाद अब परिवार में महिला की दो बेटियां, उसका भाई और भाई की दो बेटियां संक्रमित पाए गए हैं. पुणे की नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के मुताबिक इन मरीजों के सैंपल की जांच की गई है, लिहाजा इनमें ओमिक्रॉन की पुष्टि हुई है. इसके अलावा पुणे के ही एक दूसरे 47 साल के व्यक्ति में भी ओमिक्रॉन संक्रमण पाया गया है.

13 लोगों के संपर्क में आई नाइजीरिया की महिला
एक ही परिवार में जिन 6 लोगों में ओमिक्रॉन वैरिएंट मिला है, उनमें से तीन नाइजीरिया से आए हैं. इमसें 44 साल की महिला और उसकी 18 साल और 12 साल की दो बेटियां हैं, उनसे संपर्क में आने के बाद परिवार के अन्य लोग इसकी जद में आ गए. हालांकि नाइजीरिया से आने के बाद वह 13 अन्य लोगों के संपर्क में आईं थीं, उन सभी की कोरोना जांच की गई. लिहाजा जांच के जो नतीजे आए हैं उसमें महिला के भाई और उसकी 7 साल और डेढ़ साल की बेटी भी पॉजिटिव पाई गई है.

संक्रमितों में तीन ने नहीं लगवाया टीका
नाइजीरिया से जो महिला आई है, उमसें बुखार के हल्के लक्षण हैं, जबकि अन्य पांच लोगों में कोई लक्षण नहीं है. बता दें कि जिन 6 लोगों में ओमिक्रॉन वैरिएंट मिला है, उनमें से तीन की उम्र 18 साल से कम है, लिहाजा उन्होंने कोरोना का टीका नहीं लगवाया था. सभी मरीजों का इलाज पिंपरी-चिंचवड़ के जीजामाता अस्पताल में चल रहा है. वहीं पुणे में भी एक व्यक्ति में ओमिक्रॉन वैरिएंट मिला है. मरीज 18 से 25 नवंबर के बीच फिनलैंड में था. वहां से लौटने के बाद 29 नवंबर को उसे हल्का बुखार आया. परीक्षण कराने के बाद उसमें ओमिक्रॉन की पुष्टि हुई.

About bheldn

Check Also

‘मैं पहले मुसलमान फिर भारतीय…’ कौन हैं सपा में घमासान मचाने वाले देवबंद के माविया अली

सहारनपुर ‘मैं पहले मुसलमान हूं, उसके बाद भारतीय। कोई हमारे ऊपर जबरदस्ती नहीं कर सकता’… …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *