कानपुर में प्रेमी के साथ मिलकर बेटी ने मां-बाप का गला काटा, करोड़ों की प्रॉपर्टी पर भी थी नजर

कानपुर,

कानपुर के बर्रा-2 यादव मार्केट में मंगलवार को घर में ही बुजुर्ग दंपती के खून से लथपथ शव मिले थे. पुलिस ने बताया था कि मुन्ना लाल उत्तम (61) और उनकी पत्नि राजदेवी (55) की अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी है. वारादात के वक्त घर में दंपती की बेटी कोमल और बेटा अनूप मौजूद थे.

वहीं जांच में जुटी पुलिस ने 10 घंटे में हत्याकांड का खुलासा कर दिया. पुलिस का दावा है कि बुजुर्ग दंपती की हत्या उनकी ही बेटी ने की है. इस वारदात को अनजाम देने के लिए उसने अपने प्रेमी की मदद ली. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बताया कि दंपती प्रेमी से उसकी शादी का विरोध कर रहे थे. साथ ही पिता के नाम करोड़ों की संपत्ति थी, जिसे बेटी और उसका प्रेमी इसे हथियाना चाहते थे, इसलिए बेटी ने माता-पिता की हत्या कर दी.

पहले जूस में नशीला पदार्थ मिलाकर बेहोश किया
पुलिस ने बताया कि बेटी ने वारदात को अनजाम देने के लिए सोमवार रात को अपने माता-पिता और भाई को जूस में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया था. सभी जब बेहोश हो गए तो उसने अपने प्रेमी को बुलाया फिर माता-पिता की गला रेत कर हत्या कर दी. वारदात के बाद जब प्रेमी चला गया तो उसने शोर मचाना शुरू किया. शोर सुनकर घर की दूसरी मंजिल पर सो रहा भाई आया तो उसने बताया कि तीन नकाबपोश लोगों ने मां-पिता की हत्या कर दी है.

वहीं अनूप ने भी पुलिस को पूछताछ में बताया कि रात में उसकी बहन ने जूस पीने के लिए दिया था, लेकिन उसका स्वाद अच्छा नहीं तो था उसने जूस नहीं पिया था. फिर थोड़ी देर बाद वह बेहोश हो गया था.

दो अलग-अलग कमरों में मिले शव
जॉइंट पुलिस कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर) आंनद प्रकाश तिवारी ने बताया कि बुजुर्ग दंपती के शव घर के ग्राउंड फ्लोर में अलग-अलग कमरों में मिले थे. उन्होंने बताया कि सबसे पहले बेटी ने अपने माता-पिता के शव को देखा था.

बेटी का दावा- तीन बदमाश घर में घुसे थे
पहले कोमल ने पुलिस को गुमराह करने के लिए पूछताछ के दौरान बताया था,”पापा बाहर के कमरे में सो रहे थे. मैं बीच वाले कमरे में मां के साथ सो रही थी. भाई पहली मंजिल पर सो रहा था. हत्या कब हुई यह पता नहीं चल पाया है. आवाज सुनकर आंख खुली तो देखा कि तीन नकाबपोश घर से भाग रहे हैं. हालाकि पुलिस ने सुबह ही इस बात की आशंका जाहिर कर दी थी कि हत्या करने वाले दंपती को पहले से ही जानते थे.

इसलिए पुलिस का शक गहराया
जिस घर में वारदात हुई वह महज 47 वर्ग मीटर में बना है. पति-पत्नी की गर्दन काटकर हत्या कर दी गई, लेकिन घर में मौजूद बेटे-बेटी को इसका पता नहीं चला, पुलिस को इस बात विश्वास नहीं हो रहा था.बेटी मां के साथ सोई थी. वह कब उठी और कब अपने पति के पास गई? जब नकाबपोश हत्यारे घर में घुसे, तब उसने शोर क्यों नहीं किया. कोमल पुलिस को इन सवालों का जवाब नहीं दे पायी.

सीसीटीवी फुटेज में दिखायी दिया प्रेमी
शव मिलने के बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो सीसीटीवी फुटेज में देखा कि देर रात एक युवक घर में घुस रहा है. किसी ने दरवाजा अंदर से खोला और वह बिना दस्तक दिए अंदर घुस गया.करीब डेढ़ घंटे बाद वह घर से बाहर आया. उस दौरान उसने अपना मुंह ढक रखा था. पुलिस ने देखा कि घर जाते समय उसके हाथ में कुछ नहीं था, लेकिन लौटते समय उसके हाथ में एक बैग था. वह युवक लड़की का प्रेमी ही था.

बेटी के दोनों हाथों में थे चोट की निशान
पुलिस को कोमल के दोनों हाथों में चोट के निशान मिले है. इसके साथ ही जांच में उसके दोनों हाथ खून से सने पाए गए. प्रेमी के हाथ में खून भी मिला है. इतना ही नहीं लड़की ने वारदात के बाद रात में ही अपने कपड़े धुले थे, उन कपड़ों में जांच में खून के धब्बे मिले हैं.

पहले इस एंगल पर जांच कर रही थी पुलिस
पहले पुलिस अनूप के ससुरालीजनों पर शक कर उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी. दरअसल अनूप ने अपने माता-पिता की हत्या का शक अपनी पत्नी सोनिका के भाइयों पर जताया था. उसने बताया था उसकी शादी साल 2017 में सोनिका से हुई थी, लेकिन उसके एक हफ्ते बाद ही सोनिका अपने घर लौट गई थी और कभी लौटकर नहीं आई. उसके बाद से दोनों का तलाक का मुकदमा कोर्ट में चल रहा है.

उसने पुलिस को बताया था कि सोनिका के बड़े भाई सुरेन्द्र ने अनूप के परिवारवालों से 50 लाख रुपये मुआवजा भी मांगा था. साथ में धमकी भी दी थी कि अगर पैसा नहीं दिया तो पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दूंगा. पुलिस ने बताया कि मृतक मुन्नालाल ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में सुपरवाइजर के पद से रिटायर थे और मृतक राजदेवी हाउसवाइफ थीं.

 

About bheldn

Check Also

साइंस कॉलेज चौपाटी दूसरे स्थान पर होगी शिफ्ट, राजेश मूणत ने दिए निर्देश

रायपुर। राजधानी रायपुर में स्थित साइंस कॉलेज की चौपाटी दूसरे स्थान पर शिफ्ट होगी। दरअसल …