बोल नशे में था, बच जाएगा; सलमान को पुलिस सीखा रही; वीडियो से दावा

अजमेर

नूपुर शर्मा का सिर कलम करने पर अपना घर इनाम में देने का ऐलान करने वाले अजमेर दरगाह के खादिम को दो दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। लेकिन अब इस बीच राजस्थान पुलिस और सलमान चिश्ती को लेकर एक बड़ा विवाद छिड़ गया है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अशोक गहलोत सरकार की पुलिस पर सलमान चिश्ती को बचाने के संगीन आरोप लगा दिये हैं।

भाजपा नेता प्रीति गांधी ने इस संबंध में एक वीडियो शेयर किया है। यह वीडियो उस वक्त का बताया जा रहा है कि जब पुलिस ने खादिम सलमान चिश्ती को उसके घर के पकड़ा था। वीडियो को शेयर करते हुए प्रीति गांधी ने लिखा, ‘कांग्रेस अपने वोट बैंक को खुश करने के लिए किसी भी हद तक जाएगी!! सलमान चिश्ती जिसने नूपुर शर्मा के सिर पर इनाम रखा था उसे राजस्थान पुलिस धीरे से सीखा-पढ़ा रही है कि वो बोल दे कि वो नशे में था। बोल नशे में था, बच जाएगा।’

कांग्रेस जेहादी विचारधारा को देती है संरक्षण- राठौड़
प्रीति गांधी के अलावा अमित मालवीय, केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने भी इस वीडियो को शेयर कर अशोक गहलोत सरकार और कांग्रेस पर निशाना साधा है। राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा, ‘हिंदू विरोधी कांग्रेस जेहादी तत्वों व आतंकी विचारधारा को ऐसे ही संरक्षण देती है और बचाती है! आतंक फैलाने के लिए हत्या की धमकी देने वाले अजमेर दरगाह के खादिम को पुलिस सिखा रही कि कैसे बचना है। यह ऊपर से आदेश के बिना संभव नहीं। जिहादी हिंसा व हत्या की जिम्मेदार कांग्रेस सरकार है।’

सलमान को घर से पकड़ा
पुलिस ने इस मामले में मंगलवार शाम सलमान को उसके खादिम मोहल्ला स्थित निवास से गिरफ्तार किया था। प्रथम दृष्टया उसने पुलिस को नशे में वीडियो बनाने की बात कही है। अतिरक्ति पुलिस अधीक्षक विकास सांगवान, दरगाह सीओ सारस्वत, सीआई दलबीर सिंह ने विवादास्पद वीडियो जारी करने के बाद भूमिगत हुए इस खादिम को गिरफ्तार किया

About bheldn

Check Also

‘गुनाह के तहत सजा मिलनी चाहिए’, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने हाथरस वाले बाबा के खिलाफ कर दी एक्शन की मांग

लखनऊ उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने हाथरस हादसे (भोलेबाबा सत्संग) को लेकर बयान …