शिंजो आबे की हत्या पर भारत में राजनीति, नेताओं ने हत्यारे को अग्निवीर से जोड़ा

नई दिल्ली,

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे हत्या से भारत समेत दुनिया सन्न है. किसी को यकीन नहीं हो रहा है कि जापान जैसे विकसित देश में जहां गन कल्चर का एकदम चलन नहीं है वहां पर एक सिरफिरा सरे आम पूर्व प्रधानमंत्री के सीने में गोलियां मार देगा. पीएम मोदी समेत दुनिया के तमाम नेताओं ने इस हत्या दुख और पीड़ा जताया है.

लेकिन शिंजो आबे की इस दुखद हत्या पर भारत में अलग तरह की राजनीति शुरू हो गई है. भारत में इस हत्या को सेना में बहाली के लिए लाए गए स्कीम अग्निवीर से जोड़ने की कोशिश की जा रही है. समाजवादी पार्टी के एक नेता ने इस घटना को अग्निवीर स्कीम से जोड़ते हुए कहा है कि इस हत्या के लिए जिम्मेदार पेंशन न पाने वाला सेना का एक व्यक्ति है. वहीं कांग्रेस के भी एक राष्ट्रीय नेता ने कहा है कि शिंजो आबे को गोली मारने वाला शख्स यामागामी जापान की JMSDF यानी बिना पेंशन वाली सेना में काम कर चुका था. इन प्रतिक्रियाओं पर बीजेपी ने कड़ी नाराजगी जताई है.

बता दें कि आज (8 जुलाई) जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे की जापान के नारा शहर में तब हत्या कर दी गई जब वे एक चौक पर भाषण दे रहे थे. तभी हत्यारे ने उनपर दो गोलियां मारी. शिंजो आबे को तुरंत अस्पताल ले जाया गया. डॉक्टरों ने उन्हें बचाने की भरपूर कोशिश की लेकिन शिंजो आबे बचाये न जा सके. अब तक की जानकारी में जो बातें बता चली है उसके अनुसार शिंजो आबे को गाली मारने वाले शख्स की उम्र 41 साल है और उसका नाम तेत्सुयू यामागामी. यामागामी जापान मेरिटाइम सेल्‍फ डिफेंस फोर्स (JMSDF) का पूर्व सदस्य है. इस फोर्स का काम जापान के समुद्री तटों की सुरक्षा करना है.

गोली मारने वाला बिना पेंशन वाली सेना में काम कर चुका था- कांग्रेस प्रवक्ता
जापान की इस घटना का शोर भारत में सुनाई पड़ रहा है. कांग्रेस के नेता और नेशनल मीडिया पैनलिस्ट सुरेंद्र राजपूत ने कहा है कि शिंजो आबे को गोली मारने वाला यामागामी जापान की SDF यानी बिना पेंशन वाली सेना में काम कर चुका था. सुरेंद्र राजपूत के इस बयान पर बीजेपी नेता शहजाद पूनावाला ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

बीजेपी नेता शहजाद पूनावाला ने कहा है कि कांग्रेस के आधिकारिक प्रवक्ता ने शिंजो आबे की दुखद मौत को भी घटिया राजनीति का जरिया बना लिया है. मुझे हैरानी है कि क्या सोनिया और राहुल गांधी इस व्यक्ति को इसके पद से हटाएंगे. कुछ तो सीमा तय की जानी चाहिए.

इसके जवाब में कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत ने कहा, ‘जाकि रही भावना जैसी प्रभु मूरत देखी तिन तैसी. अब भाजपा के प्रवक्ता को जापान की SDF की जानकारी में राजनीति लग रही? इस वक्त शिंजो आबे जी की दुःखद मृत्यु हो चुकी है इस से ज़्यादा कुछ नहीं कहूंगा ईश्वर तुम्हें सदबुद्धि दे. इसके बाद इन दोनों नेताओं के बीच ट्विटर पर काफी देर तक बहस हुई.

घटना से सबक ले भारत सरकार- सपा प्रवक्ता
वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नितेंद्र सिंह यादव ने कहा कि जापान के पूर्व प्रधानमंत्री की दुखद मृत्यु के लिए जिम्मेदार एक बिना पेंशन पाने वाला सेना का व्यक्ति है. जापान की घटना से भारत सरकार को सबक लेना चाहिए जो अग्निवीरों को 4 साल की नौकरी दी जा रही है वह ट्रेंड होते हैं, और ऐसे में कहीं ना कहीं इस घटना से सबक लेना जरूरी है.

About bheldn

Check Also

जिसने जुर्म किया है उसे ही जांच सौंप दी जाए तो… दिग्विजय सिंह ने NEET घोटाले में पीएम मोदी से कर दी बड़ी मांग

भोपाल नीट यूजी की परीक्षा के रिजल्ट को लेकर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय …