RCP सिंह ने 71 से 43 विधायकों तक पहुंचा दी पार्टी, बिफरी JDU का जवाब

पटना,

केंद्र की मोदी सरकार के मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने के बाद जनता दल यूनाइटेड (JDU) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह (RCP Singh) गुरुवार को पटना वापस लौटे थे. पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद किया. JDU नेता ने कहा कि पिछले एक साल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कृपा से वह केंद्रीय मंत्री रहे. उनके इस बयान को लेकर पार्टी में ही उनका विरोध शुरू हो गया है.

दरअसल, इधर आरसीपी सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कृपा से केंद्र में मंत्री बनने की बात कही, तो वहीं दूसरी तरफ जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह का खेमा लाव लश्कर लेकर उन पर हमलावर हो गए.आरसीपी सिंह को जवाब देने के लिए पार्टी ने प्रवक्ता अरविंद निषाद को आगे किया. जेडीयू प्रवक्ता अरविंद निषाद ने आरसीपी सिंह को नीतीश कुमार के आशीर्वाद और कृपा की याद दिलाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की कृपा से ही वह दो बार राज्यसभा सांसद बने, जनता दल यूनाइटेड में संगठन मंत्री बने और फिर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी बने.

आरसीपी सिंह पर आगे हमला करते हुए अरविंद निषाद ने तंज कसा और कहा कि जब 2015 में जनता दल यूनाइटेड के 71 विधायक थे, मगर 2020 में जब आरसीपी सिंह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे तो पार्टी को केवल 43 सीट मिलीं.जनता दल यूनाइटेड प्रवक्ता अरविंद निषाद ने कहा, कैसे कुशल संगठन चलाने वाले के तौर पर आरसीपी सिंह ने पार्टी को 2020 में 43 विधायकों तक पहुंचा दिया जबकि 2015 में पार्टी के 71 विधायक थे. ऐसा कर के आरसीपी सिंह ने बेहतर संगठन चलाने वाले होने का परिचय दिया. हकीकत यह है कि सीपी सिंह ने गैर जिम्मेदाराना तरीके से संगठन में काम किया जिसका खामियाजा आज पार्टी भगत रही है.

About bheldn

Check Also

खाई में पलट गई बारातियों से भरी बस, दूल्हे के ताऊ की मौत और दर्जनों घायल, मातम में बदली शादी की खुशी

बदायूं: बदायूं जिले के इस्लामनगर थाना क्षेत्र में जगदीशपुर के निकट सड़क हुआ है। यहां …