मेधा पाटकर पर दर्ज हुई FIR, ट्रस्ट के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग करने का आरोप

बड़वानी

मध्य प्रदेश की बड़वानी कोतवाली पुलिस ने सामाजिक कार्यकर्ता और नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेता मेधा पाटकर  तथा 11 अन्य लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। मेधा पाटकर और उनके एनजीओ पर आदिवासी बच्चों की शिक्षा तथा अन्य सामाजिक कार्यों के नाम पर 13.5 करोड़ रुपये से अधिक की राशि एकत्र कर कथित तौर पर राजनीतिक गतिविधियों और विकास परियोजनाओं के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में दुरुपयोग करने का आरोप है।

पुलिस अधीक्षक (एसपी) दीपक कुमार शुक्ला ने रविवार को बताया कि राजपुर थाना क्षेत्र के टेमला बुजुर्ग निवासी प्रीतम राज की शिकायत पर मेधा पाटकर, परवीन समी जहांगीर, विजया चौहान और संजय जोशी समेत 12 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के अंतर्गत एफआईआर दर्ज कर इसकी जांच शुरू कर दी गई है।

एसपी ने बताया कि मेधा पाटकर तथा अन्य ट्रस्टियों के विरुद्ध उनकी संस्था नर्मदा नव निर्माण अभियान के माध्यम से वर्ष 2007 से 2022 के बीच विभिन्न शैक्षणिक एवं सामाजिक गतिविधियों के नाम पर एकत्र 13 करोड़ 50 लाख से अधिक राशि के दुरुपयोग का आरोप है। उन्होंने बताया कि प्रकरण की जांच में और धाराएं भी बढ़ सकती हैं।

आरोप के मुताबिक, मेधा पाटकर एवं अन्य आरोपियों द्वारा सामाजिक कार्यों तथा मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र के आदिवासी बच्चों के प्राथमिक स्कूल स्तर पर शैक्षणिक उद्देश्य आदि के लिए दान एकत्र किया गया, लेकिन इस राशि से राजनीतिक गतिविधियों के वित्त पोषण के साथ विकास परियोजनाओं के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन के प्रबंधन और आयोजन किए गए।

About bheldn

Check Also

मध्य प्रदेश: मेट्रो लाइन से जुड़ेंगे इंदौर-उज्जैन, मोहन यादव सरकार का फैसला

भोपाल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने शनिवार को भोपाल और इंदौर मेट्रो …