AIADMK पर कब्जे की जंग, ईपीएस-ओपीएम समर्थकों में जमकर हुई पत्थरबाजी

चेन्नई,

तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी अन्नाद्रमुक (AIADMK) के दो शीर्ष नेता OPS और EPS के बीच का विवाद गहराता जा रहा है. AIADMK पर कब्जे की जंग सड़क पर दिखाई दी. लिहाजा सोमवार को दोनों नेताओं के समर्थकों में आपस में टकराव हो गया. देखते ही देखते ओ पन्नीरसेल्वम (OPS) और पलानीस्वामी (EPS) के समर्थक भिड़ गए. जमकर पथराव हुआ. बताया जा रहा है कि ये पथराव कहीं और नहीं, बल्कि AIADMK के हेड क्वार्टर के पास हुई है. पार्टी में सिंगल लीडरशीप लागू करने को लेकर दोनों नेताओं में विवाद चल रहा है. इसी के मद्देनजर दोनों लीडर के समर्थकों के बीच हुई झड़प लाठी-डंडे तक जा पहुंची. कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे पर लाठियां बरसाईं. इसके साथ ही उन्होंने पोस्टर भी फाड़े.

चेन्नई में AIADMK की बैठक में भारी बवाल देखने को मिला. ओपीएस के समर्थकों ने हेडक्वार्टर पहुंचकर दरवाजे तोड़ दिए, ईपीएस के पोस्टर जला दिए. पुलिस ने कुछ लोगों की पहचान की है. साथ ही नेताओं से बात कर मामला शांत करने की अपील की.दोनों नेताओं के समर्थकों के झगड़े में कई लोगों को चोट भी आई हैं. बताया जा रहा है कि कुछ लोग अचानक हेडक्वार्टर में पहुंच गए. उन्होंने लॉ एंड ऑर्डर की अनदेखी की. ओपीएस के समर्थकों ने नाराजगी की वजह से हेड क्वार्टर के दरवाजे भी तोड़ दिए.

दोनों नेताओं के समर्थकों की झड़प के वीडियो भी सामने आए हैं, जिसमें साफ तौर पर दिखाई दे रहा है कि कुछ लोग अपने हाथों में कुर्सियां लेकर खड़े खड़े हुए हैं, जबकि कुछ लोग भागते हुए नजर आ रहे हैं. इसके साथ ही गुस्साए लोगों ने पार्टी कार्यालय के गेट भी तोड़ डाले.ओ पनीरसेल्वम के समर्थकों ने चेन्नई के रोयापेट्टा में AIADMK के मुख्यालय के बाहर वनगरम में ई पलानीस्वामी के नेतृत्व में आय़ोजित हो रही आम परिषद की बैठक का विरोध किया. इस दौरान प्रदर्शनकारी सड़क पर बैठ गए.

जनरल काउंसिल की बैठक में फैसला, खत्म किए ये पद
ई पलानीस्वामी की अध्यक्षता में अन्नाद्रमुक आम परिषद की बैठक वनगरम में पार्टी कार्यालय में चल रही है. सूत्रों के मुताबिक यहां 16 प्रस्तावों के पारित होने की उम्मीद है. बताया जा रहा है कि AIADMK ने समन्वयक और संयुक्त समन्वयक का पद समाप्त कर दिया है. जबकि महासचिव पद का मार्ग प्रशस्त करने के लिए दोहरे नेतृत्व को भी समाप्त करने की बात कही गई है.

जयललिता, पेरियार और MGR को भारत रत्न की मांग
आम परिषद की बैठक में पेरियार, एमजी रामचंद्रन (MGR) और जयललिता के लिए भारत रत्न की मांग का प्रस्ताव पारित किया गया. इसके साथ ही जनरल काउंसिल ने अन्नाद्रमुक के दोहरे नेतृत्व को खत्म करने और पार्टी के लिए उप महासचिव पद सृजित करने का प्रस्ताव पारित किया.

About bheldn

Check Also

SBI ने दिया जोर का झटका… महंगा हुआ लोन, अब चुकानी होगी ज्‍यादा ईएमआई

नई दिल्‍ली , भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट को अनचेंज रखा है, लेकिन कई …