उद्धव ठाकरे को फोन कर क्या राजनाथ सिंह ने कहा- ‘अस्सलाम वालेकुम’! क्या है माजरा?

मुंबई,

राष्ट्रपति चुनाव से पहले महाराष्ट्र की राजनीति में हलचल है. महाराष्ट्र में सता पलट के बाद अभी मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो सका है. माना जा रहा है कि अब राष्ट्रपति चुनाव के बाद ही महाराष्ट्र में नए कैबिनेट का निर्माण किया जाएगा. लेकिन इसी बीच उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को पार्टी नेताओं के साथ हुई अहम बैठक में अपने और देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बीच फोन पर हुई बातचीत के बारे में बताया. जिसके बाद यहां सियासी माहौल में काफी हलचल है.

दरअसल, शिवसेना पार्टी के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीते दिन यानी कि सोमवार को सांसदों की एक अहम बैठक बुलाई थी, जिसके बाद दूसरे दिन यानी कि आज मंगलवार को भी शिवसेना के पुराने नए विधायकों की जरुरी बैठक बुलाई. इस दौरान उन्होंने बताया कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उन्हें फोन किया और बातचीत की शुरुआत ‘अस्सलाम वालेकुम’ से शुरू की. उद्धव ने कहा कि जब उन्होंने राजनाथ की इस बात पर ऐतराज जताया तो रक्षा मंत्री ने ‘जय श्रीराम’ कहकर बातों को आगे बढ़ाया.

बता दें कि राजनाथ सिंह को एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति चुनाव के लिए समन्वयक की जिम्मेदारी दी गई है. ऐसे में राजनाथ, देश भर की पार्टियों के प्रमुख से फोन पर बातचीत कर राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू की समर्थन करने के लिए आग्रह कर रहे हैं.

वहीं उद्धव ठाकरे के इस किस्से को लेकर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि राजनाथ सिंह महबूबा मुफ़्ती को फोन लगाना चाह रहे थे, लेकिन गलती से फोन मातोश्री में लग गया. दूसरी तरफ उद्धव के किस्से पर बीजेपी की तरफ से पार्टी के विधायक सुधीर मुनगंटीवार ने बयान दिया है. उन्होंने कहा कि मैंने इस किस्से के बारे में राजनाथ सिंह से बात की. उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं कहा गया, यह झूठ है. उद्धव ठाकरे को ऐसी बातें कहना बंद कर देना चाहिए. हालांकि इस दौरान सुधीर मुनगंटीवार ने उद्धव के द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने की बात का स्वागत किया है.

About bheldn

Check Also

हम चुप नहीं बैठेंगे… नारायणपुर में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ के बाद विष्णुदेव साय का बड़ा बयान

नारायणपुर छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में शनिवार (15 जून) को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के …