मां काली विवाद के बीच बंगाल में स्मृति ईरानी की एंट्री, महुआ पर पलटवार, मंदिर में दर्शन

हावड़ा

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा के मां काली पर विवादित टिप्पणी पर चल रहे विवाद के बीच बीजेपी की ओर से बंगाल में दमदार चेहरे की एंट्री हुई है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं। मंगलवार को उन्होंने हावड़ा में एक स्थानीय काली देवी मंदिर में पूजा-अर्चना की। इसके बाद उन्होंने बाल्टीकुड़ी में एक पृष्ठ प्रमुख के घर पर जाकर भोजन किया। इस दौरान स्मृति ईरानी ने जमीन पर बैठकर केले के पत्ते पर पारंपरिक तरीके से भोजन किया। साथ ही उन्होंने छोटी बच्ची को गोद में लेकर खाना खिलाया।

मां काली विवाद पर स्मृति का मोइत्रा पर पलटवार
तीन दिन के दौरे पर पश्चिम बंगाल आईं स्मृति ईरानी ने सोमवार को टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा की ओर से मां काली पर दिए बयान पर पलटवार किया था। यह पहली बार है जब एक केंद्रीय मंत्री ने हालिया मां काली विवाद पर कुछ बोला हो। स्मृति ईरानी ने कहा था, ‘तृणमूल के एक सांसद के लिए मां काली का अपमान करना नामुमकिन नहीं है। इससे पहले भी टीएमसी के शीर्ष नेतृत्व ने देवी-देवताओं का कई तरह से अपमान किया है।’

महुआ मोइत्रा ने क्या कहा था?
टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने एक टीवी न्यूज चैनल के कार्यक्रम के दौरान दावा किया था कि उन्हें एक व्यक्ति के रूप में काली देवी को मांस खाने वाली और शराब स्वीकार करने वाली देवी के रूप में कल्पना करने का पूरा अधिकार है। महुआ मोइत्रा का बयान फिल्म निर्देशक लीना मणिमेकलई की फिल्म ‘काली’ के विवादास्पद पोस्टर को लेकर थी। इसमें मां काली के वेश में एक महिला को धूम्रपान करते हुए दिखाया गया था।

टीएमसी ने किया बयान से किनारा
महुआ मोइत्रा के बयान का खूब विरोध हुआ था। यहां तक कि ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी को भी अपने सांसद की टिप्पणी से खुद को दूर करना पड़ा था। टीएमसी ने कहा था कि मोइत्रा के विचार पार्टी की ओर से समर्थित नहीं हैं और उनकी व्यक्तिगत राय है।

About bheldn

Check Also

अधूरे रह गए परिवार से किए वादे… रोजी-रोटी के लिए वतन छोड़कर कुवैत गए थे भारतीय, स्वदेश लौटे शव

नई दिल्ली, खाड़ी देश कुवैत की एक छह मंजिला इमारत में लगी आग में 45 …