भाजपा के साथ आए उद्धव ठाकरे: ​​​​​ राउत बोले- मुर्मू को सपोर्ट, भाजपा को नहीं

मुंबई

शिवसेना राष्ट्रपति चुनाव में NDA उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करेगी। खुद उद्धव ठाकरे ने इसका ऐलान किया है। उम्मीदवार के समर्थन को लेकर ठाकरे ने सोमवार को एक मीटिंग की थी। मीटिंग में शामिल शिवसेना सांसदों ने मुर्मू का समर्थन करने की मांग की थी। मीटिंग में मुर्मू के अलावा विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के नाम पर भी चर्चा हुई।

वहीं, शिवसेना सांसद संजय राउत ने मंगलवार को कहा कि राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू के नाम पर चर्चा हुई और मुर्मू के समर्थन का मतलब भाजपा का समर्थन नहीं है। बता दें कि मुर्मू आदिवासी समुदाय से आती हैं और महाराष्ट्र की करीब 10% आबादी आदिवासी है। इसलिए यह फैक्टर उन्हें समर्थन की बड़ी वजह माना जा रहा है।

ठाकरे बोले- इस फैसले के लिए मुझ पर कोई दबाव नहीं था
ठाकरे ने कहा- यह देखते हुए कि एक आदिवासी महिला को राष्ट्रपति बनने का मौका मिला है, हमने द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने का फैसला किया है। मुझे पता है कि इसके बाद राजनीति शुरू होगी, लेकिन इसमें कोई राजनीति नहीं है। हमने पहले भी हमने UPA की उम्मीदवार प्रतिभा पाटिल का समर्थन किया था।

ठाकरे ने आगे कहा कि इस फैसले के लिए मुझ पर कोई दबाव नहीं था, न हीं हमने इसमें कोई पॉलिटिकल एंगल तलाशा है। यह प्रचार किया जा रहा है कि मेरे सांसदों ने मुझ पर दबाव डाला और मुझे जबरदस्ती फैसला लेना पड़ा। सांसदों ने कहा कि अब तक किसी को भी इस स्तर पर आदिवासी समुदाय का प्रतिनिधित्व करने का मौका नहीं दिया गया है। इसलिए हम सभी को द्रौपदी मुर्मू जी का समर्थन करना चाहिए।

राउत बोले- शिवसेना दबाव में निर्णय नहीं लेती
संजय राउत ने कहा कि शिवसेना पहले UPA के दो राष्ट्रपति उम्मीदवारों का भी समर्थन कर चुकी है। संजय राउत ने कहा कि शिवसेना पहले UPA के दो राष्ट्रपति उम्मीदवारों का भी समर्थन कर चुकी है।राउत बोले- विपक्ष को जिंदा रहना चाहिए। पहले हमने प्रतिभा पाटिल का समर्थन किया था, NDA उम्मीदवार का नहीं। हमने प्रणब मुखर्जी का भी समर्थन किया। शिवसेना दबाव में निर्णय नहीं लेती है।

About bheldn

Check Also

उत्तर प्रदेश : एक परिवार के 5 लोगों ने खाया जहर, गाजीपुर मेडिकल कॉलेज में चल रहा इलाज

गाजीपुर: उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में एक परिवार के 5 लोगों ने जहर खा लिया। …