अफगानिस्‍तान में तालिबान के राज में लौटा टूरिज्‍म, बामियान में बढ़ी पर्यटकों की भीड़

पिछले साल अफगानिस्‍तान पर तालिबान (Taliban) ने 20 साल बाद कब्‍जा किया था। इस कब्‍जे को एक साल होने वाला है। एक साल पूरे होने से पहले यहां से एक अच्‍छी खबर आ रही है। अधिकारियों की मानें तो अफगानिस्‍तान के बामियान प्रांत में टूरिज्‍म में इजाफा देखा जा रहा है।बामियान में टूरिज्‍म सेंटर के मुखिया जुमा खान ने बताया है कि देश में पर्यटन को लेकर कोई समस्‍या नहीं है। सभी इलाकों और एतिहासिक जगहों पर पर्यटकों की संख्या आसानी से देखी जा सकती है। उन्‍होंने बताया है कि बामियान के सेंट्रल प्रांत में लगातार पर्यटक बढ़ रहे हैं और ये एक अच्‍छी खबर है। टूरिस्‍ट्स भी यहां पर आकर खुश हैं।

अब तक कितने पर्यटक
आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक बामियान में पिछले कुछ हफ्तों में 30,000 से ज्‍यादा पर्यटकों की संख्‍या दर्ज की गई है। बताया जा रहा है कि इसमें अफगानिस्‍तान के आलावा दूसरे देशों के पर्यटक भी शामिल हैं।

​क्‍या है बामियान
बामियान, अफगानिस्‍तान की वो एतिहासिक जगह है जहां का इतिहास बौद्ध धर्म से जुड़ा है। इस हिस्‍से में भारी संख्‍या में विदेशी पर्यटक आते हैं।साल 2001 में तालिबान ने यहां पर बुद्ध की मूर्ति को तबाह कर दिया था।

​बहुत अच्‍छा लग रहा
एक पर्यटक लतुफ्ला ने कहा है कि वो जितनी बार यहां आते हैं, उतनी बार नई चीजें देखने को मिलती हैं और ये काफी अच्‍छी बात है। वहीं एक और पर्यटक ने कहा है कि देश के सूचना व‍िभाग की तरफ से इसका काफी ध्‍यान रखा जा रहा है।

About bheldn

Check Also

पन्नू की बात कर मोदी का मन खट्टा तो नहीं करेंगे बाइडेन, डोभाल की वापसी की भी होगी खुन्नस?

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने अभी इटली गए हैं। …