जाफराबाद मर्डरः सट्टेबाजी में 8.5 करोड़ गंवाए, विडियो में कहा- बेटियां इसलिए मार दीं…

नई दिल्ली

जाफराबाद की मशहूर मटके वाली गली में भारी भीड़ थी। इससे जुड़ी छोटी गली स्थित एक घर में पति-पत्नी और दो बेटियों को गोली लगी थी। पड़ोसी हैरान थे और कई तो हत्या होने की चर्चा कर रहे थे। रिश्तेदारों का हुजूम घर पर लग चुका था। महिलाएं दहाड़ें मार-मार कर रो रही थीं। किसी की समझ नहीं आ रहा था कि अचानक ये सब कैसे हो गया? एक फैमिली के चार लोगों की गोली लगने से मौत का मामला था, इसलिए पुलिस के आला अफसर भी लाव-लश्कर के साथ मौका मुआयना करने पहुंचे। तफ्तीश शुरू हुई तो मृतक इसरार का फोन खंगाला गया। इससे मिले एक विडियो ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, विडियो में इसरार ने कबूल किया कि वो क्रिकेट मैचों पर सट्टा लगाता था। आईपीएल से लेकर अब तक वो 8.5 करोड़ रुपये हार चुका था। इतना ज्यादा कर्ज चुकाना उसके बूते में नहीं था, इसलिए वह खुदकुशी कर रहा है। यह विडियो इसरार ने पत्नी और दोनों बेटियों की हत्या करने के बाद बनाया था। बेटों को जिंदा छोड़ने और बेटियों को मारने की वजह भी इसरार ने विडियो में बताई है। उसका कहना था कि बेटे तो अपनी जिंदगी जी लेंगे, लेकिन बगैर मां-बाप के बेटियों के लिए जी पाना काफी मुश्किल होगा। इसलिए उसने दोनों बेटियों को भी मारने का फैसला किया।

इसरार ने विडियो में कहा है कि वो मानता है कि वो ये जुर्म और गलती कर रहा है, लेकिन वो मजबूर है। शुरुआती जांच में पुलिस को आशंका है कि इसरार ने पत्नी और सभी बच्चों को कोई ऐसी चीज खिलाई थी, जिससे सभी गहरी नींद में रहे होंगे। इसरार के बेटे रेयान ने बताया कि रात को माता-पिता और 5 साल का छोटा भाई राइद कमरे में सो रहे थे। वह और दोनों बहनें कमरे के बाहर बरामदे में सो रहे थे। इससे पता चला चलता है कि सभी पर किसी चीज का असर रहा होगा, तभी इसरार दोनों लड़कियों को अंदर के कमरे में ले गया और गोली मार दी। बाहर सो रहे रेयान को पता ही नहीं चला।

About bheldn

Check Also

भीषण गर्मी के कारण दिल्ली में 192 बेघर लोगों की हुई मौत, इस संगठन ने किया दावा

नई दिल्ली राजधानी दिल्ली में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी रहने के चलते लू लगने …