पंजाब मुख्यमंत्री चुनाव में शहबाज शरीफ के बेटे की जीत, धरा रह गया इमरान खान का ‘हसीन’ सपना

इस्लामाबाद

पाकिस्तान के पंजाब सूबे में मुख्यमंत्री पद के लिए हुए चुनाव में हमजा शहबाज ने जीत हासिल की है। हमजा शहबाज पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के बेटे हैं। उन्होंने उन्होंने इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के उम्मीदवार परवेज इलाही को हराया है। हालांकि, यह जीत काफी विवादित है, ऐसे में मामला पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट में जाना तय है। वोटिंग से ठीक पहले पंजाब विधानसभा के उपाध्यक्ष दोस्त मोहम्मद मजारी ने फैसला सुनाया कि पार्टी प्रमुख चौधरी शुजात के पत्र को ध्यान में रखते हुए इस चुनाव में पीएमएल-क्यू सदस्यों के वोटों की गिनती नहीं की जाएगी।

हमजा को मिले इलाही से तीन वोट ज्यादा
मजारी के अनुसार, हमजा शहबाज को 179 वोट मिले जबकि परवेज इलाही को 176 वोट मिले। जब सदन के अंदर मतदान चल रहा था, तभी ऐसी खबरें आई कि पीएमएल-क्यू अध्यक्ष चौधरी शुजात हुसैन ने इलाही की उम्मीदवारी से खुद को दूर करते हुए एक पत्र लिखा था। इसी पत्र के आधार पर विधानसभा उपाध्यक्ष ने उनकी पार्टी के विधायकों के वोट को गिना ही नहीं। एक दिन पहले ही चौधरी शुजात हुसैन ने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष आसिफ अली जरदारी से मुलाकात की थी। इससे पहले जरदारी ने शुजात को एक पत्र लिखने के लिए कहा था, जिसमें पीएमएल-क्यू के सांसदों को इलाही को वोट नहीं देने का निर्देश देने की मांग की गई थी।

शुजात हुसैन ने अपनी ही पार्टी के उम्मीदवार का किया था विरोध
जियो न्यूज के पत्रकार हामिद मीर ने पीएमएल-क्यू की मूनिस इलाही के हवाले से कहा कि शुजात ने परवेज को पीटीआई के उम्मीदवार के रूप में समर्थन देने से इनकार कर दिया था। इसके तुरंत बाद, मूनिस ने ट्वीट कर साफ किया कि पीएमएल-क्यू और पीटीआई की एक संयुक्त संसदीय बैठक में सर्वसम्मति से परवेज को मुख्यमंत्री चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार बनाया गया था।

विधानसभा उपचुनाव में इमरान की पार्टी में मारी थी बाजी
चंद दिनों पहले हुए पंजाब विधानसभा उपचुनाव में इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने बाजी मारी थी। यह उपचुनाव इमरान की पार्टी के विधायकों के पाला बदलने के कारण हुआ था। पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने इन विधायकों को अयोग्य घोषित करते हुए फिर से चुनाव के आदेश दिए थे। इस जीत के बाद इमरान ने दावा किया था कि पंजाब की जनता शहबाज शरीफ की पार्टी के विरोध में है।

About bheldn

Check Also

सऊदी अरब ने बनाया बिना मोड़ वाला दुनिया का सबसे लंबा हाईवे, ऑस्ट्रेलिया को पछाड़कर गिनीज बुक में दर्ज किया रेकॉर्ड

रियाद: सऊदी अरब ने बिना किसी मोड़ के दुनिया का सबसे लंबा हाईवे बनाने का …