सोनिया से पूछताछ के खिलाफ धरना दे रहे थे राहुल गांधी, जबरन उठा ले गई पुलिस

नई दिल्ली,

नेशनल हेराल्ड केस में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मंगलवार को ईडी ने पूछताछ की. ये पूछताछ करीब 3 घंटे चली. लंच ब्रेक के बाद उसने ईडी दोबारा पूछताछ करेगी. उधर, ईडी की इस कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस ने सड़क से संसद तक जमकर हंगामा किया. जहां कांग्रेसी सांसदों ने सदन में इस मुद्दे पर सरकार को घेरा, तो कांग्रेसी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने कार्रवाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया.

कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और महिला विंग ने पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय पर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. तो वहीं, राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी के सांसदों ने संसद से विजय चौक तक मार्च किया. इसके बाद राहुल गांधी सांसदों के साथ विजय चौक पर धरने पर बैठ गए. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी और अन्य कई सांसदों को हिरासत में ले लिया.

क्या बोले राहुल गांधी?
हिरासत में लिए जाने से पहले राहुल गांधी ने कहा, कांग्रेस के सभी सांसद यहां बेरोजगारी, महंगाई की बात करने आए थे. लेकिन पुलिस यहां बैठने दे रही है. संसद के भीतर चर्चा नहीं होने दी जा रही है. यहां हमारी गिरफ्तारी की जा रही है. उधर, दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस को राजघाट पर विरोध प्रदर्शन करने की अनुमति देने से इंकार कर दिया था. यहां धारा 144 लागू कर दी गई है. इसके साथ ही कांग्रेस दफ्तर के पास भारी पुलिसबल तैनात किया गया है. इसे लेकर कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा है.

अजय माकन बोले- ये केस 2016 में ही बंद हो गया था
कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा, हम राजघाट पर सत्याग्रह करना चाहते थे. लेकिन बीजेपी ने हमें सत्याग्रह करने की इजाजत नहीं दे रही है. उन्होंने नेशनल हेराल्ड को लेकर कहा कि ये केस 2016 में भी खत्म हो गया था. ईडी ने इसे बंद कर दिया था. लेकिन सरकार ने इसे दोबारा खोला है. अजय माकन ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेताओं को भी पार्टी दफ्तर में नहीं आने दिया जा रहा है. पूरे देश में कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता सत्याग्रह कर रहे हैं.

About bheldn

Check Also

NEET-NET पेपर लीक मामले में केंद्र का बड़ा एक्शन, NTA के महानिदेशक सुबोध कुमार सिंह को हटाया

नई दिल्ली, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के महानिदेशक (DG) सुबोध कुमार को पद से हटा …