भेल के फाउंड्री गेट पर आये दिन पेट्रोल-टायर की होती चोरी

भोपाल

महारत्न कंपनी भारत हेवी इलेक्टिकल्स लिमिटेड (भेल) भोपाल कारखाने के बाहर खड़े वाहन असुरक्षित हैं। आये दिन यहां की गाडिय़ों से पेट्रोल, टायर और मीटरों का चोरी होना आम बात हो गई है। यहां यह बता देना भी जरूरी है कि भेल सीआईएसएफ के अलावा सालाना करोड़ों रुपए प्रायवेट सिक्यूरिटी ऐजेंसियों पर खर्च कर रहा है बावजूद इसके यहां पर चोरी थमने का नाम नहीं ले रही है। मामला है भेल के 5 नं. फाउंडी गेट के प्रवेश द्वार का।

जानकारी के मुताबिक भेल में काम कर रहे ठेका श्रमिकों के साथ-साथ ट्रेनिंग करने आए लोगों को कारखाने के अंदर वाहन ले जाने की अनुमति नहीं है। इसलिए इन लोगों को अपने वाहनों को बाहर खड़ा कर अंदर जाना पड़ता है। नाम न छपने की शर्त पर भेल के एक ठेका श्रमिक ने बताया कि यहां से कई बार उसके वाहन से पेट्रोल चोरी हो चुका है। यही नहीं यहां के कई वाहनों के टायर के अलावा गाडिय़ों के मीटर तक चोरी हो चुके हैं।

ठेका मजदूर नेता मनीष गौतम ने बताया कि इस मामले को प्रबंधन को गंभीरता से लेना चाहिये । जब भी कोई कर्मचारी या ठेका श्रमिक इसकी शिकायत सीआईएसएफ को करता है तो वह कहते हैं कि बाहर की जिम्मेदारी प्रायवेट सिक्यूरिटी ऐजेंसियों की है और जब ऐजेंसियों के कर्मियों से इसकी शिकायत की जाती है तो वह सीआईएसएफ पर थोप देते हैं। गौरतलब है कि भेल प्रबंधन टाउनशिप की सुरक्षा के लिए करोड़ों रुपए खर्च करता है, बावजूद इसके यहां पर चोरियां थमने का नाम नहीं ले रही है।

About bheldn

Check Also

बजट में बीएचईएल और एनटीपीसी को लेकर बड़ा ऐलान, 800 मेगावाट का सुपर क्रिटिकल थर्मल पावर प्लांट लगाया जाएगा

दिल्ली। बजट भाषण में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एनर्जी की जरूरतों को पूरा करने …