सोनिया, इरानी, रमा देवी, अब महुआ ने निर्मला को घेरा, सभी दलों की महिला सांसदों ने थामा तगड़ा मोर्चा

नई दिल्ली

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के राष्ट्रपत्नी बयान के ने लोकसभा में बुधवार को भूचाल ला दिया। केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी के नेतृत्व में बीजेपी की महिला सांसदों ने चौधरी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से माफी की मांग कर दी। हालांकि, इसी मुद्दे पर इरानी और सोनिया के बीच तीखी नोकझोंक भी हो गई। उधर, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जब कांग्रेस अध्यक्ष पर लोकसभा के भीतर उग्र होने का आरोप लगाया तो उनके बचाव में टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा उतर पड़ीं और कहा कि संसद में लोकतंत्र पर ही खतरा मंडरा रहा है। महुआ ने वित्त मंत्री पर आरोप लगाया कि वह महंगाई पर चर्चा के बजाए दूसरी बातों पर ध्यान लगा रही हैं।

सोनिया और इरानी के बीच तीखी बहस के बाद कांग्रेस और बीजेपी की तरफ से महिला सांसदों ने मोर्चा थाम लिया था। बीजेपी ने जहां सीतारमण और रमा देवी को उतारा तो वहीं, कांग्रेस की तरफ से ज्योत्सना चरणदास महंत ने मोर्चा संभाल लिया। दरअसल, सदन में या सदन के बाहर कभी इस तरह का नजारा दिखा नहीं था। दोनों दल एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं।

महुआ का ट्वीट से निर्मला पर निशाना
टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने इस हंगामे के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को निशाने पर ले लिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि लोकसभा में आईं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महंगाई और जीएसटी जैसे मुद्दे को छोड़कर गैरजरूरी चीजों पर जोर दे रही हैं। उन्होंने लिखा कि मैडम आजकल संसद में एक ही बात दिख रही है कि लोकतंत्र पर खतरा मंडरा रहा है। महुआ ने कहा कि वह सोनिया और इरानी के बीच नोकझोंक की गवाह हैं और बीजेपी का झूठ बोलना शर्मनाक है। महुआ ने ट्वीट किया कि उस वक्त में लोकसभा में थी जब एक 75 साल की वरिष्ठ नेता को घेर लिया गया था। वह उस दौरान वह एक अन्य वरिष्ठ नेता से बात कर रही थीं। बीजेपी का झूठ और मीडिया में जारी गलत बयान से दुखी हूं।

सुप्रिया सुले का भी ट्वीट
एनसीपी नेता सुप्रिया सुले ने भी इस घटना पर ट्वीट किया था। उन्होंने कहा कि लोकसभा में आज दुर्भाग्यपूर्ण दृश्य देखने को मिला। लोकसभा की कार्यवाही स्थगित होने के बाद सोनिया गांधी के खिलाफ गैरजरूरी नारेबाजी सुनकर स्तब्ध थी। सभी को सदन की गरिमा और इसे सुचारू रूप से चलाने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

निर्मला बोलीं, सोनिया ने दी धमकी!
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सदन की कार्यवाही के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सोनिया गांधी के स्मृति इरानी पर किए गए व्यवहार की निंदा की थी। सीतारमण ने मीडिया से बातचीत में आरोप लगाया कि सोनिया गांधी बीजेपी सदस्यों से ‘धमकी भरे अंदाज’ में बात कर रही थीं। उन्होंने दावा किया कि सोनिया ने स्मृति इरानी से कहा, ‘आप मुझसे बात मत कीजिए।’ सीतारमण ने कहा, ‘माफी मांगने के बजाय वह यह कहकर गुमराह कर रही हैं कि अधीर रंजन चौधरी पहले ही माफी मांग चुके हैं। माफी मांगने के बजाय वह धमकी दे रही हैं।’

रमा देवी ने बताया कि सोनिया क्यों आई थीं उनके पास
रमा देवी ने बाद में मीडिया से बातचीत में कहा कि सोनिया गांधी जानना चाह रही थीं कि इस मुद्दे में उन्हें क्यों खींचा जा रहा है। रमा देवी के अनुसार सोनिया ने उनसे पूछा, ‘मेरी क्या गलती है?’ रमा देवी ने कहा कि उन्होंने, सोनिया से कहा कि उनकी गलती यह है कि उन्होंने चौधरी को लोकसभा में कांग्रेस का नेता चुना है। इससे पहले बीजेपी के सांसद रमा देवी और सोनिया के आसपास जमा हो गए थे।

About bheldn

Check Also

जिसने जुर्म किया है उसे ही जांच सौंप दी जाए तो… दिग्विजय सिंह ने NEET घोटाले में पीएम मोदी से कर दी बड़ी मांग

भोपाल नीट यूजी की परीक्षा के रिजल्ट को लेकर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय …