कैसी होगी धरती की आखिरी सेल्फी? AI ने बनाई ऐसी इमेज, देखकर डर जाएंगे आप!

नई दिल्ली,

सेल्फी कई लोग लेते हैं. यंगस्टर्स में इसका अच्छा-खासा क्रेज भी देखा जा सकता है. लेकिन, क्या आपको पता है दुनिया की आखिरी सेल्फी कैसी होगी? इसका जवाब AI यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ने दिया है. AI का इस्तेमाल कई जगहों पर किया जाता है. एक AI DALL-E 2 का इस्तेमाल इमेज जनरेटर के लिए किया जाता है. इस AI से पूछा गया कि धरती की आखिरी सेल्फी कैसी होगी. इसके रिजल्ट काफी ज्यादा अच्छे नहीं थे. इस सवाल पर AI ने कई इमेज को जनरेट किया.

ये इमेज तब वायरल हो गए जब Robot Overloards नाम के टिकटॉक अकाउंट से इसे सोशल मीडिया पर शेयर किया गया. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ने जो भी इमेज जनरेट किया था, वो ऐसे सीन्स को दिखा रहे हैं जिसमें चारों ओर तबाही है और लोग हाथ में मोबाइल पकड़े हुए हैं.

क्या है DALL-E और कैसे लास्ट सेल्फी को किया गया प्रीडिक्ट?
DALL-E आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सिस्टम को कहा गया वो लास्ट ली जाने वाली सेल्फी को क्रिएट करें. उसका जो भी मानना है वो वैसी ही सेल्फी तैयार करें जिसे धरती पर आखिरी बार ली जाएगी. गूगल के सर्वर से मिली जानकारी के आधार पर इसने इमेजी की एक सीरीज तैयार की. इस ट्वीट से आप आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रीडिक्ट की गई सेल्फी देख सकते हैं.

इसमें विनाशकारी सीन दिखाई गई जहां पर चारों ओर तबाही है और लोगों के पास फोन है. DALL-E आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सिस्टम ने यूजर के टैक्सट डिस्क्रिप्शन इनपुट्स के बेस्ड पर यूनिक इमेज को जनरेट किया. इस AI सिस्टम ने 12-बिलियन पैरामीटर वर्जन GPT-3 का यूज किया. ये एक ऑटोग्रेसिव लैग्वेंज मॉडल है जो डीप लर्निंग का यूज करके व्यक्ति जैसी बातचीत को जनेरट करता है. जबकि इंजीनियर्स ने OpenAI के GPT-3 मॉडल का यूज करके DALL-E को कंस्ट्रक्ट किया था. इससे ये टैक्सट इनपुट के आधार पर इमेज जनरेट करता है.

About bheldn

Check Also

अंतरिक्ष में फंसीं सुनीता विलियम्स! सिर्फ 27 दिन का फ्यूल बाकी… जानें- कहां हुई परेशानी

नई दिल्ली, भारतीय मूल की अंतरिक्ष यात्री सुनीता विलियम्स क्या अंतरिक्ष में फंस गई हैं? …