संजय राउत के घर से मिले साढ़े 11 लाख रुपये, ED ने छापेमारी के दौरान किया जब्त

मुंबई,

संजय राउत को प्रवर्तन निदेशालय ने आज हिरासत में ले लिया है. अब उनपर गिरफ्तारी की तलवार भी लटक रही है. ताजा जानकारी के मुताबिक, संजय राउत के घर से ईडी ने 11.50 लाख रुपये भी जब्त किये हैं. ईडी दफ्तर पहुंचने के बाद संजय राउत ने मीडिया से भी बात की. यहां उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र को कमजोर करने की कोशिश हो रही है, लेकिन वह झुकेंगे नहीं. इस बीच संजय राउत के वकील ने दावा किया है कि उनको सिर्फ पूछताछ के लिए बुलाया गया है, हिरासत में नहीं लिया गया है.

इससे पहले करीब 9 घंटे तक ईडी की टीम ने संजय राउत के घर छानबीन की. ईडी ने यह छापेमारी पात्रा चॉल घोटाले से जुडे़ मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में की थी. रविवार को ED की टीम सुबह 7 बजे राउत के भांडुप स्थित घर पर पहुंची थी.शाम चार बजे करीब ईडी ने संजय राउत को हिरासत में ले लिया. यह खबर मीडिया में फैलने के बाद भारी संख्या में समर्थक संजय राउत के घर के बाहर जमा हो गये थे. उन्होंने ईडी टीम का रास्ता रोक लिया था. संजय राउत को जब ईडी की टीम घर से लेकर निकली तो उन्होंने भगवा रंग का गमछा हवा में लहराया.

संजय राउत बोले- पार्टी नहीं छोड़ेंगे
ईडी दफ्तर पहुंचने के बाद संजय राउत ने मीडिया से बात की. वह बोले कि महाराष्ट्र को कमजोर करने की कोशिश हो रही है. लेकिन वह झुकेंगे नहीं और ना ही पार्टी छोड़ेंगे.संजय राउत के वकील विक्रांत साबने का इस पूरे घटनाक्रम पर बयान भी आ गया है. उन्होंने कहा कि संजय राउत तो आज दोपहर में समन किया गया, जिसके बाद हम लोग ईडी दफ्तर आ गए. वकील ने कहा कि ईडी कई कागजात जब्त करके अपने साथ लेकर गई है लेकिन उसमें Patra Chawl से जुड़े कागजात नहीं थे. उन्होंने यह भी दावा किया कि राउत वैसे तो पूछताछ के लिए बुलाया गया है, लेकिन उनको गिरफ्तार किया जा सकता है.

ईडी ने संजय राउत पर जांच में सहयोग न करने का आरोप लगाया है. जानकारी के मुताबिक, जब उन्हें जांच एजेंसी ने अपने साथ ED ऑफिस चलने के लिए कहा तो उन्होंने कहा कि वे मौजूदा सांसद हैं. उन्होंने 7 अगस्त तक का समय मांगा था. लेकिन अब ईडी उनको हिरासत में लेकर अपने साथ ले जा सकती है.

छापेमारी के वक्त राउत ने सफाई दी थी कि एक जिम्मेदार सांसद के रूप में उन्हें संसद सत्र में भाग लेना है और इसलिए वह 20 और 27 तारीख को ईडी के सामने पेश नहीं हुए. उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने 7 अगस्त तक का समय मांगा है और अगर उस दिन तलब किया जाता है तो वह ईडी के अधिकारियों के सामने पेश होंगे.

27 जुलाई को भी पेश नहीं हुए थे राउत
इससे पहले 27 जुलाई को ईडी ने मामले में राऊत को समन भेजकर पूछताछ के लिए हाजिर रहने को कहा था, लेकिन भी राउत पेश नहीं हुए थे और उन्होंने पेशी से छूट मांगी थी. लेकिन तब ईडी ने इसे स्वीकार नहीं किया था.

About bheldn

Check Also

कबाड़ खरीदने वाले भंगार वाले बाबा ने किया सुसाइड, युवाओं के चिढ़ाने से थे आहत

जोधपुर , राजस्थान के फलोदी जिले के एक वृद्ध ने पेड़ पर रस्सी का फंदा …