UP: 10 लाख में लेखपाल परीक्षा पास कराने की गारंटी, दबोचे गए 18 लोग

लखनऊ/वाराणसी,

उत्तर प्रदेश में एसटीएफ ने राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी फैलाने वाले सॉल्वर गैंग के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है. एसटीएफ ने आज राज्य के अलग-अलग जिलों में सॉल्वर गैंग के लोगों की धरपकड़ की और कुल 18 लोगों को गिरफ्तार किया है. सॉल्वर गैंग के तार पेपर लीक कराने वाले प्रयागराज के कुख्यात पटेल गैंग से जुड़ते नजर आ रहे हैं. सॉल्वर गैंग के लोग परीक्षा में नकल कराने से लेकर पेपर लीक करने या किसी और की जगह बैठकर पेपर देने तक का काम करता है. यूपी एसटीएफ गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है. कई जगहों पर अभी भी छापेमारी जारी है.

501 केन्द्रों पर हुई लेखपाल भर्ती परीक्षा
रविवार को उत्तर प्रदेश के 12 मंडल मुख्यालयों के 501 परीक्षा केन्द्रों पर राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा हुई. सॉल्वर गैंग ने इसमें भी बड़े पैमाने पर सेंधमारी करने की कोशिश की. यूपी एसटीएफ की लखनऊ, प्रयागराज, मेरठ, वाराणसी और बरेली यूनिट ने एक साथ लेखपाल भर्ती परीक्षा में छापेमारी की और परीक्षा केन्द्रों पर ब्लूटूथ डिवाइस लगाकर परीक्षा दे रहे सॉल्वर गैंग और उससे जुड़े लोगों को गिरफ्तार किया. प्रयागराज में सॉल्वर गैंग धंधे में माहिर नरेन्द्र पटेल और संदीप पटेल को गिरफ्तार किया. वहीं विभिन्न परीक्षा केन्द्रों पर देखा गया कि केन्द्र से कुछ दूरी पर कार में बैठकर सॉल्वर परीक्षा प्रश्न पत्र हल करवा रहे थे.

प्रयागराज से नरेन्द्र, संदीप पटेल गिरफ्तार
यूपी एसटीएफ की लखनऊ यूनिट ने सबसे पहले प्रयागराज से नरेन्द्र पटेल और संदीप पटेल को गिरफ्तार किया. पूछताछ के बाद वाराणसी यूनिट ने दिलीप गुप्ता, कानपुर यूनिट ने करण कुमार और प्रयागराज यूनिट ने दिनेश कुमार साहू को भी गिरफ्तार किया. गिरफ्तार संदीप पटेल, पहले भी कई बार जेल जा चुके डॉ. के. एल. पटेल का करीबी रहा है. प्रयागराज से हुई 5 गिरफ्तारी के बाद लखनऊ में भी 2 परीक्षा केन्द्रों से दूसरे की जगह परीक्षा दे रहे हैं 2 सॉल्वर पकड़े गए. मेरठ यूनिट ने 1 सॉल्वर पकड़ा गया.

10 लाख में परीक्षा पास कराने की गारंटी
प्रयागराज की एक अन्य यूनिट ने विजयकांत पटेल और उसके दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार विजयकांत पटेल ने 10- 10 लाख रुपये लेकर परीक्षा में पास कराने का जिम्मा लिया था. इसके लिए उसने कैंडिडेट के कान में ब्लूटूथ लगा दिया था,इसी ब्लूटूथ के जरिए परीक्षार्थी को उसके सवालों के जवाब बताए जा रहे थे.

यूपी एसटीएफ ने प्रयागराज, बरेली, लखनऊ, मेरठ, कानपुर, गोंडा और वाराणसी से कुल 18 लोगों को गिरफ्तार किया है. इसमें सर्वाधिक बरामदगी प्रयागराज से गिरफ्तार संदीप पटेल के पास से हुई. संदीप पटेल के पास से 15 ब्लूटूथ डिवाइस, 6 सिम कार्ड, 6 ईयर बड सेल, 6 ईयर बड डिवाइस कार्ड और 10 मोबाइल बरामद हुए हैं. अभी भी यूपी एसटीएफ गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ कर रही है. वहीं दूसरी तरफ इस सॉल्वर गैंग को लीड कर रहे एक अधिकारी ने कहा कि आज हुई राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा का एक अन्य मास्टरमाइंड भी है, जिसकी गिरफ्तारी होते ही कुछ बड़े नाम सामने आएंगे. इसी मास्टरमाइंड से सॉल्वर गैंग के तार जुड़े हैं और यही मास्टरमाइंड यूपीटीईटी पेपर लीक कराने वाले लोगों से भी जुड़ा था.

वाराणसी में भी हुई धरपकड़
वाराणसी में भी लेखपाल भर्ती परीक्षा में एसटीएफ के हत्थे 4 लोग चढ़े. इनके पास से इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बरामद भी बरामद किए गए हैं. वाराणसी के आर्य महिला कॉलेज, उदय प्रताप कॉलेज समेत कुल तीन परीक्षा केन्द्रों से दूसरे के स्थान पर परीक्षा देने आए सॉल्वर समेत इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस करने वाले सॉल्वर गैंग के सदस्य पकड़े गए हैं. उदय प्रताप इण्टर कॉलेज के प्रधानाचार्य के अनुसार परीक्षा केन्द्र से इलेक्ट्रोनिक डिवाइस संग पुष्पेन्द्र नामक युवक पकड़ा गया है.

About bheldn

Check Also

खाई में पलट गई बारातियों से भरी बस, दूल्हे के ताऊ की मौत और दर्जनों घायल, मातम में बदली शादी की खुशी

बदायूं: बदायूं जिले के इस्लामनगर थाना क्षेत्र में जगदीशपुर के निकट सड़क हुआ है। यहां …