विपक्ष ने रघुराम राजन की दलीलों से किया वार, सीतारमण ने भी उन्हीं के बयानों के तीर दाग दिए

नई दिल्‍ली

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन को हथियार बनाकर विपक्ष मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर सवाल खड़े करता है। अब सरकार उन्‍हीं का नाम लेकर विपक्ष पर हमलावर हो गई है। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को महंगाई पर संसद में जवाब देते हुए राजन का ही जिक्र कर दिया। सीतारमण ने विपक्ष पर राजन के बयानों के तीर दाग दिए। वित्‍त मंत्री ने उनका नाम लेते हुए कहा कि राजन ही बोले हैं कि आरबीआई ने अच्छा काम किया है। मोदी सरकार ने कर्ज कम रखने में अच्‍छा काम किया है। देश मजबूत स्थिति में है। भारत पाकिस्तान और श्रीलंका जैसे हालात से नहीं गुजर रहा है।

लोकसभा में सोमवार को महंगाई के मुद्दे पर चर्चा हुई। अंत में वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जवाब दिया। इस दौरान उन्‍होंने रघुराम राजन का भी जिक्र किया। पूर्व आरबीआई गवर्नर का नाम लेकर विपक्ष मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर सवाल खड़े करता आया है। सीतामरण ने उन्‍हीं का नाम लेकर विपक्ष को जवाब दिया। इसके लिए उन्‍होंने रघुराम राजन के शनिवार को दिए बयान का उल्‍लेख किया।

सीतारमण बोलीं, ‘आरबीआई ने अच्छा काम किया, रघुराम राजन ने शनिवार को ही कहा। मोदी सरकार ने कर्ज कम रखने का अच्छा काम कर रही है, यह भी राजन ने कहा है। हमारे पास पर्याप्त मुद्रा भंडार है। हम पाकिस्तान और श्रीलंका जैसे हालात से नहीं गुजर रहे हैं।’

रघुराम राजन का नाम लेकर हमलावर रहा है विपक्ष
रघुराम राजन ने रिजर्व बैंक के गवर्नर पद से जब इस्तीफा दिया था और मोदी सरकार से उनकी खटपट की खबरें आई थीं, तब कांग्रेस समेत विपक्ष ने इसे मुद्दा बनाकर हमला बोला था। शनिवार को रघुराम राजन ने कहा था कि रिजर्व बैंक ने बहुत अच्छा काम किया है। भारत की हालत श्रीलंका और पाकिस्तान की तरह नहीं होने वाली है।

पूर्व आरबीआई गवर्नर ने की थी जमकर तारीफ
पूर्व आरबीआई गवर्नर ने मीडिया से बातचीत में यह भी कहा था कि रिजर्व बैंक ने विदेशी मुद्रा भंडार को बढ़ाने का काम किया है। भारत के पास पर्याप्त विदेशी मुद्रा है। यहां श्रीलंका और पाकिस्तान जैसे हालात नहीं बनेंगे। वह बोले थे कि भारत पर विदेशी कर्ज है, लेकिन यह अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है। महंगाई का दबाव तो है, लेकिन यह समस्या इस वक्त पूरी दुनिया में है। सबसे ज्यादा महंगाई खाद्य पदार्थों और ईंधन में है। रिजर्व बैंक लगातार ब्याज दरें बढ़ा रहा है। इससे आने वाले वक्त में महंगाई जरूर कम होगी। रघुराम राजन के इस बयान से कांग्रेस समेत उन विपक्षी दलों को जोर का झटका लगा था जो पिछले काफी समय से मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों का विरोध कर रहे थे।

About bheldn

Check Also

NTA विवाद: ये 7 अधिकारी तय करेंगे एनटीए कितना ‘साफ’! शिक्षा मंत्रालय ने बनाई हाई-लेवल कमेटी

नई दिल्ली, NEET UG 2024 परीक्षा में कथित धांधली को लेकर शिक्षा मंत्रालय ने NTA …