आखिर श्रीकांत त्यागी कब गिरफ्तार होगा? महेश शर्मा बोले- 48 में से 5 घंटे भी बाकी

नोएडा

गौतमबुद्धनगर से सांसद महेश शर्मा ने श्रीकांत त्यागी के अवैध कब्जे पर बुलडोजर चलाए जाने पर कहा कि देर आयद, दुरुस्त आयद। उन्होंने कहा कि आरोप लगाया जाता रहा है कि बुलडोजर राजनीतिक व्यवस्था के खिलाफ है, इस ऐक्शन से योगी जी की सरकार ने एक बार फिर साफ बता दिया कि बुलडोजर उन सबके खिलाफ है, जिनको कानून व्यवस्था में विश्वास नहीं है।

महेश शर्मा ने कहा कि कि यूपी में हमारी सरकार का काम करने का तरीका अलग है। इसी के तहत तुरंत कार्रवाई हई है। श्रीकात त्यागी की गिफ्तारी पर 48 घंटे के अपने अल्टीमेटम पर शर्मा ने कहा कि 48 घंटे में अभी वक्त बाकी है। शाम 5 बजे के अंदर गिरफ्तारी हो जाएगी। मुझे पूरा विश्वास है कि आज शाम गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मुझे बताया गया है कि टीमें उसकी जांच में लगी हुई है। उन्होंने गृह सचिव को फोन पर हड़काने पर कहा कि लोगों में काफी गुस्सा था। इसी को लेकर उन्होंने गृह सचिव को फोन किया था।

अपर मुख्‍य सचिव पर हुए थे नाराज
आपको बता दें कि रविवार रात करीब 8 बजे डेढ़ दर्जन युवकों ने नोएडा की ग्रैंड ओमेक्‍स सोसाइटी में घुसकर जमकर बवाल काटा। मामले की सूचना थाने को दी गई। स्थानीय लोगों ने गौतमबुद्धनगर के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा को मामले की जानकारी दी। इसके बाद सांसद घटनास्थल पर पहुंचे। घटना से गुस्साए सांसद ने सीधे अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश अवस्थी को फोन मिलाया और कहा कि हमारी सरकार है। हमें यह कहते हुए यहां शर्मिंदगी महसूस हो रही है। पता करिए 15 लड़के कैसे सोसायटी में घुसे। नाराज सांसद अधिकारी से अब तक श्रीकांत त्यागी की गिरफ्तारी न होने को लेकर भी सवाल करते देखे गए।

ऋषिकेश में मिला श्रीकांत त्‍यागी का लास्‍ट लोकेशन
बताया जा रहा है कि पुलिस के डर से श्रीकांत त्‍यागी उत्‍तराखंड में छिपा हुआ है। उसके फोन की अंतिम लोकेशन ऋषिकेश में मिली है। नोएडा पुलिस की सात टीमें उत्‍तराखंड के अलग अलग जिलों में त्‍यागी की तलाश में छापेमारी कर रही हैं। सूत्रों के अनुसार एक जगह सीसीटीवी फुटेज में भी वह नजर आया है।

About bheldn

Check Also

बॉर्डर बंद, सड़कों पर ट्रैक्टर… भारत ही नहीं यूरोप में भी किसान कर रहे प्रदर्शन, पोलैंड-ग्रीस के किसानों की ये है डिमांड

पेरिस भारत में किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) समेत अन्य मांगों के लिए एक बार …