MP: थाने में खुद को आग लगाने वाले किसान की मौत, फूट-फूट कर रोए MLA

सागर,

मध्य प्रदेश के सागर में खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगाने वाले किसान की मौत हो गई जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया. घटना बंडा थाना परिसर में हुई थी जहां किसान ने खुद पर पेट्रोल डालकर आत्मदाह की कोशिश की थी. किसान की मौत की खबर मिलते ही विधायक तरवर लोधी थाने पहुंच गए और कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए. विधायक तरवर लोधी थाना परिसर के बाहर करीब 7 घंटे तक बारिश में धरना देते रहे जिसके बाद देर रात कलेक्टर मौके पर पहुंचे. उनसे कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद उन्होंने करीब रात 2 बजे धरना समाप्त किया. वो शाम 7:00 बजे से धरने पर बैठे हुए थे. बता दें कि इस दौरान विधायक किसान की मौत पर फूट-फूट कर रोते हुए भी नजर आए.

विधायक ने किसान को न्याय दिलाने और किसान की मौत के मामले में दोषियों पर कार्रवाई की मांग रखी. विधायक को थाने में बैठा देख समर्थकों की भीड़ जमा होने लगी जिसके बाद किसान को न्याय दिलाने की मांग शुरू हो गई.मामले की सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी और एसडीएम मौके पर विधायक से बात करने पहुंचे लेकिन वो उन्हें समझाने में नाकाम रहे.

इसके बाद रात करीब 1:00 बजे कलेक्टर दीपक आर्य बंडा पहुंचे और उन्होंने धरने पर बैठे विधायक से बात की. उनके समझाने और कार्रवाई का आश्वासन मिलने पर विधायक ने धरना खत्म किया. डीएम ने कहा कि मामले में जांच की जा रही है. जांच में दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और परिवार को सहायता दी जाएगी .

क्या है पूरा मामला
दरअसल 9 अगस्त को बंडा विधानसभा के चौका गांव के किसान शीतल रजक ने कीटनाशक के छिड़काव के बाद फसल बर्बाद होने से निराश होकर थाना परिसर में ही खुद पर पेट्रोल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश की थी. इसके बाद उन्हें बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था जहां हालत में सुधार नहीं होने पर भोपाल के हमीदिया अस्पताल रेफर किया गया. अस्पताल में 12 अगस्त को उन्होंने अंतिम सांस ली थी. इसके बाद विधायक ने किसान की मौत पर शोक व्यक्त किया था और शाम को किसान को न्याय दिलाने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए थे.

डीएम ने दिया मदद को भरोसा
इस मामले को लेकर सागर जिले के कलेक्टर दीपक आर्य ने कहा, एक घटना हुई जिसमें चर्चा है कि किसान द्वारा आत्महत्या का प्रयास किया गया और बाद में उनकी मृत्यु हो गई.उन्होंने थाना परिसर में ही आग लगाई थी. थाना स्टाफ ने जैसे ही देखा तो आग बुझाई लेकिन तब तक वो काफी जल चुके थे और अस्पताल में उनकी मौत हो गई. इस मामले में जांच चल रही है.

About bheldn

Check Also

झारखंड के जामताड़ा में आग की अफवाह के बाद ट्रेन से कूदे यात्री, दूसरी ट्रेन से कटकर 2 की मौत

जामताड़ा, झारखंड में जामताड़ा और विद्यासागर स्टेशन के बीच बड़ा हादसा हुआ है। ट्रेन के …