J-K: गुलाम नबी आजाद के समर्थन में इस्तीफों की झड़ी, 6 पूर्व MLA ने कांग्रेस छोड़ी

नई दिल्ली,

वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने शुक्रवार को कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. आजाद ने इस्तीफे में कांग्रेस आलाकमान पर हमला बोला है और जम्मू-कश्मीर में अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान किया है. अब आजाद के समर्थन में जम्मू-कश्मीर के कई बड़े नेता इस्तीफा दे रहे हैं. अब तक 6 पूर्व विधायकों ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. इन सभी नेताओं ने आजाद का खुलकर समर्थन किया है.

आज जिन 6 पूर्व विधायकों ने कांग्रेस से इस्तीफा दिया है, उनमें जीएम सरूरी, हाजी अब्दुल राशिद, मोहम्मद अमीन भट, गुलजार अहमद वानी, चौधरी मोहम्मद अकरम और आरएम चिब का नाम शामिल है. ये सभी नेता कांग्रेस से विधायक रहे हैं. बता दें कि आरएस चिब (RS Chib) और जीएम सरूरी जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस सरकार के समय मंत्री भी रहे हैं.

सरूरी और राशिद कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे
बता दें कि जीएम सरूरी और हाजी अब्दुल राशिद जम्मू-कश्मीर में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष भी रहे हैं. इसके अलावा, अमन भट यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे हैं. गुलजार अहमद अनंतनाग जिले के पार्टी अध्यक्ष थे. चौधरी मोहम्मद अकरम ST सेल के चेयरमैन थे.

आजाद के समर्थन में इस्तीफा दिया
वहीं, सरूरी ने कहा कि हम 5 पूर्व विधायक (जीएम सरूरी, हाजी अब्दुल राशिद, मोहम्मद अमीन भट, गुलजार अहमद वानी और चौधरी मोहम्मद अकरम) गुलाम नबी आजाद के समर्थन में कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं. अब सिर्फ पार्टी में JKPC अध्यक्ष ही रहेंगे.

जयराम रमेश बोले- आजाद ने असली चरित्र दिखाया
इधर, कांग्रेस नेता अब गुलाम नबी आजाद पर हमलावर हो गए हैं. कांग्रेस प्रवक्ता जयराम रमेश ने कहा कि जिस व्यक्ति को कांग्रेस नेतृत्व ने सबसे ज्यादा सम्मान दिया, उसी व्यक्ति ने कांग्रेस नेतृत्व पर व्यक्तिगत आक्रमण करके अपने असली चरित्र को दर्शाया है. पहले संसद में मोदी के आंसू, फिर पद्म विभूषण, फिर मकान का एक्सटेंशन… यह संयोग नहीं सहयोग है.

खुर्शीद बोले- ये परिपक्वता नहीं है
कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि राहुल गांधी हमारे नेता हैं और रहेंगे. राहुल गांधी के साथ हमारा लेन-देन का रिश्ता नहीं है. पार्टी के लिए कुछ करना हमारा कर्तव्य है. यह परिपक्वता नहीं है कि लंबे समय से पार्टी से जुड़े लोग इतनी छोटी सी बात पर साथ छोड़ देते हैं. उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि हम कहीं नहीं जा सकते लेकिन हम नहीं जाएंगे और पार्टी के साथ रहेंगे. हम पार्टी के साथ इस देश का भविष्य देखते हैं और उम्मीद करते हैं कि पार्टी आगे बढ़ेगी.

About bheldn

Check Also

गुजरात में पकड़ी गई 1400 करोड़ रुपये की ड्रग्स, पकड़े गए 5 विदेशीस्मगलर, पाकिस्तान से जुड़ रहा कनेक्शन

नई दिल्ली  नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने नौसेना और गुजरात एटीएस के साथ मिलकर ड्रग्स …