चिटफंड घोटाले में TMC नेता गिरफ्तार, 80 लाख कैश, जिंदा कारतूस, बन्दूक भी बरामद

कोलकाता

चिटफंड घोटाला मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को तृणमूल कांग्रेस के एक नेता को गिरफ्तार कर लिया। हलीशहर नगर पालिका के चेयरमैन राजू साहनी को सीबीआई ने अक्टूबर 2018 में कोलकाता में दर्ज चिटफंड घोटाला मामले में गिरफ्तार किया है। सीबीआई के एक अधिकारी ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “हमने 80 लाख रुपये, जिंदा कारतूस के साथ एक बन्दूक और संपत्ति से संबंधित कई दस्तावेज बरामद किए हैं। उन्हें एक पोंजी घोटाले की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है।”

सीबीआई का आरोप है कि साहनी और अन्य ने सनमर्ग वेलफेयर ऑर्गनाइजेशन नाम की कंपनी के फंड का गलत इस्तेमाल किया। टीएमसी नेता को गिरफ्तार करने से पहले एजेंसी ने उसके घर की तलाशी ली थी। इससे पहले सीबीआई ने इसी मामले में बर्दवान नगर पालिका के अध्यक्ष प्रणब चटर्जी को भी गिरफ्तार किया था। सीबीआई सूत्रों के अनुसार सनमार्ग वेलफेयर ऑर्गनाइजेशन के ट्रस्टियों पर मैच्योरिटी अमाउंट चुकाने में विफल रहने, निवेशकों को धोखा देने, इसकी शाखाएं बंद करने और भाग जाने का आरोप है।

सूत्रों ने बताया कि मामले के अन्य आरोपी सौम्यरूप भौमिक, चंद्रशेखर साबत, ब्रजो गोपाल दत्ता, तुफान पॉल और सुरजीत सरकार हैं। मई 2014 में, सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को पश्चिम बंगाल और ओडिशा में सभी पोंजी घोटालों की जांच करने का निर्देश दिया था। इन घोटालों के जरिए लाखों जमाकर्ताओं को ठगा गया था।

 

About bheldn

Check Also

वाराणसी में 22-23 फरवरी को रहेंगे PM मोदी, 14 हजार करोड़ की परियोजनाओं की देंगे सौगात

वाराणसी , पीएम नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आगामी 22-23 फरवरी को दो …