T20 World Cup: ‘यह इतिहास की सबसे खराब…’, वॉन ने टीम इंडिया का उड़ाया मजाक

नई दिल्ली,

टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भारतीय फैन्स को अपनी टीम से दमदार प्रदर्शन की उम्मीद थी, लेकिन उनकी उम्मीदें चकनाचूर हो गईं. इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में टीम इंडिया को 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. इस हार के चलते उसका टी20 वर्ल्ड कप 2022 में सफर समाप्त हो गया है. अब फाइनल में इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच मुकाबला खेला जाएगा.

हार के बाद क्रिकेट विशेषज्ञ भारतीय टीम के प्रदर्शन की आलोचना कर रहे हैं. अब इस लिस्ट में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन का भी नाम जुड़ गया है. माइकल वॉन ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि सफेद गेंद के क्रिकेट के इतिहास में भारत सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली टीम है और उसने 2011 में वर्ल्ड कप जीतने के बाद क्या किया है. वॉन ने कहा टी20 विश्व कप में भारतीय टीम ने पुरानी शैली का क्रिकेट खेला.

भारत सफेद बॉल की सबसे खराब टीम: वॉन
वॉन ने ‘द टेलीग्राफ’ में लिखे अपने कॉलम में कहा, ‘भारत इतिहास में सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली सफेद गेंद की टीम है. हर खिलाड़ी जो इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने जाता है, कहता है कि इससे उनके खेल में कितना सुधार हुआ, लेकिन भारत ने इससे क्या हासिल किया है. 2011 में घरेलू सरजमीं पर 50 ओवर का विश्व कप जीतने के बाद उन्होंने क्या किया है? कुछ नहीं. भारत सफेद गेंद में वैसा ही पुरानी शैली का क्रिकेट खेल रहा है जो उसने वर्षों से खेला है.’

पंत का सही से नहीं हुआ इस्तेमाल: वॉन
वॉन ने साथ ही ऋषभ पंत का प्रभावी रूप से इस्तेमाल नहीं करने के लिए भी टीम मैनेजमेंट की आलोचना की. उन्होंने कहा, ‘उन्होंने ऋषभ पंत जैसे खिलाड़ी का भरपूर इस्तेमाल नहीं किया. इस दौर में उसे शीर्ष पर रखिए. मैं इस बात से हैरान हूं कि उनके पास जो प्रतिभा है, उसके बावजूद वे कैसा टी20 क्रिकेट खेलते हैं. उनके पास खिलाड़ी हैं लेकिन उन्हें खिलाने के लिए सही प्रोसेस नहीं है. उन्होंने प्रतिद्वंद्वी गेंदबाजों को दबाव बनाने के लिए पहले पांच ओवर कैसे दे दिए?’

माइकल वॉन ने भारतीय टीम में ऑलराउंडर की कमी का भी जिक्र किया. वॉन ने कहा, ‘उनके पास केवल पांच ही गेंदबाजी विकल्प कैसे हो सकते हैं जब 10 या 15 साल पहले भारत के सभी शीर्ष बल्लेबाज थोड़ी बहुत गेंदबाजी कर सकते थे- सचिन तेंदुलकर, सुरेश रैना, वीरेंद्र सहवाग और यहां तक कि सौरव गांगुली भी. कोई भी बल्लेबाज गेंदबाजी नहीं करता, इसलिए कप्तान के पास केवल पांच ही विकल्प थे.’

वॉन चहल के भी नहीं खेलने से हैं हैरान
तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा की अनुपस्थिति में भारतीय गेंदबाजों ने काफी खराब प्रदर्शन किया. लेग-स्पिनर युजवेंद्र चहल को नहीं खिलाने के फैसले का खामियाजा भी भारत को भुगतना पड़ा. इसे लेकर वॉन ने कहा, ‘टी20 क्रिकेट के आंकड़ों से हम सभी जानते हैं कि टीम को एक स्पिनर की जरूरत होती है जो दोनों तरीकों से टर्न करा सके. भारत के पास काफी लेग स्पिनर हैं. वे कहां हैं?’Live TV

About bheldn

Check Also

विराट ने जल्दी आउट होकर भी रचा इतिहास, IPL इतिहास में 8 हजार रन बनाने वाले बने पहले बल्लेबाज

अहमदाबाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के स्टार बल्लेबाज और पूर्व कप्तान विराट कोहली आईपीएल के इतिहास …