ताबीज बनाने में काम आती थी फेवीक्विक, तांत्रिक ने कपल पर डाला और चाकू से गोदकर किया कत्ल

उदयपुर,

राजस्थान के उदयपुर में हुए डबल मर्डर के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. केलाबावड़ी के जंगलों में 18 नवंबर को एक युवक-युवती की नग्न लाश मिली थी. दोनों की हत्या 15 नवंबर को की गई थी. दोनों की जातियों और हत्या की परिस्थितियों को देखकर मामला ऑनर किलिंग का लग रहा था. हालांकि, पुलिस की जांच में अवैध संबंध और तांत्रिक के बदला लेने की खौफनाक साजिश का पर्दाफाश हुआ. जानिए क्या है मामला, कैसे तांत्रिक ने अंजाम दी वारदात और पुलिस ने कैसे खोला केस…

आदिवासी समुदाय से आने वाला मृतक राहुल मीणा सरकारी स्कूल में अध्यापक था. वह शादीशुदा होने के साथ ही 2 बच्चों का पिता था. वहीं, राजपूत समुदाय से आने वाली सोनू कुंवर भी शादीशुदा थी, लेकिन अपने पति से अलग रहती थी. उसने अपने पति के खिलाफ कोर्ट में एक प्रार्थना पत्र भी लगा रखा है. लड़की के पिता सिलाई और मजदूरी करते हैं. सोनू भी सिलाई का काम करती थी.

तांत्रिक के यहां मिले थे युवक युवती 
राहुल और सोनू का परिवार तांत्रिक के यहां आता था. यहीं करीब पांच महीने पहले दोनों की मुलाकात हुई और उनके रिश्ते आगे बढ़ने लगे. दोनों ने अपने फोन नंबर एक दूसरे को दिए और दोनों के बीच धीरे-धीरे शारीरिक संबंध बनाने लगे. इस रिश्ते के बाद से राहुल पत्नी से झगड़ा करने लगा. उसकी पत्नी ने तांत्रिक भालेश जोशी से मदद मांगी, तो उसने राहुल और सोनू के बारे में उसे सब कुछ बता दिया. उनके अलग होने पर तांत्रिक ने सोनू से नजदीकियां बढ़ानी शुरू कर दीं. जब राहुल को यह पता चला, तो उसने और सोनू ने तांत्रिक को बदनाम करने की धमकी दी.

तांत्रिक ने बदला लेने के लिए रची साजिश 
आरोपी तांत्रिक भालेश इच्छापूर्ण शेष नाग बावजी मंदिर भादवीगुड़ा का पुजारी था. वह मूल रूप से पादरड़ी बड़ी, सागवाड़ा डूंगरपुर हाल सुखाडिया नगर यूनिवर्सिटी रोड का रहना वाला है. वह 7-8 साल से मंदिर में कष्ट निवारण के लिए लोगों को डोरा-ताबीज बनाकर देता था और अंगूठा दबाकर सच बताने का दावा किया करता था. इसकी वजह से लोग उसका सम्मान करते थे और उसकी प्रतिष्ठा थी.

राहुल और सोनू के धमकी देने के बाद तांत्रिक भालेश को लगा कि कहीं इनकी वजह से उनका नाम न खराब हो जाए.लिहाजा, दोनों को सबक सिखाने और रास्ते से हटाने का षड्यंत्र रचा. वह 15 नवंबर की शाम को राहुल को युवती से अंतिम बार मिलवाने की बात कहकर सुखाडिया सर्कल से साथ ले गया. रास्ते से सोनू कुंवर को बाइक पर बैठाकर उबेश्वरजी की तरफ ले गया.

फिर मौका पाकर चाकू से कर दी हत्या 
घटना स्थल पर दोनों आखिरी बार मिलने वाले थे. दोनों ने आखिरी बार शारीरिक संबंध बनाने की गुजारिश तांत्रिक से की. इस पर उसने तुरंत हामी भर दी. जब दोनों आपत्तिजनक हालत में थे, तो उसने उनके शरीर पर फेवीक्विक उड़ेल दिया. जब तक राहुल और सोनू कुछ समझ पाते, उनके शरीर पर फेवीक्विक चिपकने लगा.

अलग होने की कोशिश में उनके शरीर की खाल तक निकलने लगी. इसी दौरान मौका पाकर भालेश ने पत्थर और चाकू से राहुल और सोनू पर कई वार किए. राहुल का प्राइवेट पार्ट भी चाकू से काटकर अलग कर दिया. युवती के भी प्राइवेट पार्ट में धारदार हथियार से हमला किए जाने के निशान मिले थे.

हर समय साथ रखता था फेवीक्विक, ताबीज चिपकाता था
आरोपी तांत्रिक ने गोगुंदा क्षेत्र की विभिन्न दुकानों से करीब 50 से अधिक फेवीक्वीक जमा की थी और एक बोतल में भर ली थी. दरअसल, यह ताबीज बनाने में काम आती थीं. वारदात के दौरान भालेश ने इसे युवक-युवती पर उड़ेल दिया, ताकि वे आपत्तिजनक स्थिति में चिपके रहें और उनकी लाशें मिलने के बाद उनकी बदनामी हो. इसके बाद वह मौके से फरार हो गया.

72 घंटों के अंदर पुलिस ने सुलझा लिया ब्लाइंड मर्डर केस 
मगर, पुलिस ने वारदात का पता चलने के 72 घंटों के अंदर ही मामले को सुलझा लिया. उदयपुर पुलिस अधीक्षक (SP) विकास कुमार ने बताया कि इलाके के करीब 50 जगहों के सीसीटीवी फुटेज निकालीं और करीब 200 लोगों से पूछताछ की गई. साक्ष्यों के आधार पर संदिग्ध दिखे 55 साल के तांत्रिक भालेश को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई.

उसने हत्या करने का जुर्म कबूल किया. मामले में तांत्रिक को अदालत में पेश कर रिमांड पर ले लिया गया है. उसके फोन पर युवती से बात करने के सबूत मिले हैं. लिहाजा, पुलिस लव ट्रांयगल के मामले से भी इस केस की जांच के लिए उससे आगे की पूछताछ कर रही है.

About bheldn

Check Also

IPL: राजस्थान से हारकर बाहर हुई कोहली की RCB, अब खिताब से 2 कदम दूर संजू की सेना

अहमदाबाद इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) एलिमिनेटर में संजू सैमसन की कप्तानी वाली राजस्थान रॉयल्स ने …