कर्नाटक में लागू करेंगे समान नागरिक संहिता, सीएम बोम्मई बोले- फैसला लेने से पहले सभी पहलुओं को देख रहे

बेंगलुरू/शिवमोग्गा

कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई ने समान नागरिक संहिता (यूसीसी) को लागू करने पर बड़ा बयान दिया है। सीएम ने शनिवार को कहा कि हमारी सरकार समान नागरिक संहिता (यूसीसी) को लागू करने पर गंभीरता से विचार कर रही है। यह बयान सीएम ने भारतीय संविधान दिवस के अवसर पर बेंगलुरू में मीडिया से बातचीत में दिया। सीएम बोम्मई ने कहा कि ‘क्योंकि यह राष्ट्रीय स्तर पर बीजेपी के मुख्य घोषणापत्र का हिस्सा है। राज्य सरकार यूसीसी को लागू करने के लिए विभिन्न राज्यों में गठित विभिन्न समितियों पर विचार कर रही है। ताकि इस पर फैसला लेने से पहले सभी पहलुओं का अध्ययन किया जा सके।

शिवमोग्गा में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे सीएम
सीएम बसवराज बोम्मई शुक्रवार को शिवमोग्गा में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा ‘एक धर्मनिरपेक्ष देश में कानून धर्म पर आधारित नहीं होने चाहिए। अगर एक राष्ट्र और उसके राज्य धर्मनिरपेक्ष हैं, तो कानून धर्म पर कैसे आधारित हो सकते हैं? हर संसद या राज्य विधानसभा द्वारा पारित कानून में विश्वास रखने के लिए यह एक होना चाहिए।’ बोम्मई ने जोर देकर कहा कि ‘गोहत्या और धर्मांतरण विरोधी कानूनों को प्रभावी ढंग से लागू किया जाएगा।’

कांग्रेस पर साधा निशाना
कांग्रेस पर निशाना साधते हुए बोम्मई ने कहा कि राज्य और केंद्र दोनों ही तुष्टीकरण की राजनीति पर नहीं बल्कि विकास पर ध्यान दे रहे हैं। सीएम ने उम्मीद जताते हुए कहा कि दत्ता पीठ मुद्दा जल्द ही सुलझा लिया जाएगा। साथ ही कहा कि सरकार हनुमान का जन्मस्थान माने जाने वाले अंजनाद्री बेट्टाको भक्तों और पर्यटकों के लिए एक केंद्र के रूप में विकसित करेगी । कैबिनेट विस्तार पर सीएम बोम्मई ने कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी नेतृत्व इस विकल्प का इस्तेमाल कर सकता है।

About bheldn

Check Also

UP: मोबाइल छीन लेने से भड़की पत्नी, पति को बेहोश कर लगाया करंट, बैट से फोड़ डाला सिर

मैनपुरी , यूपी के मैनपुरी में एक पति ने अपनी पत्नी का मोबाइल छीन लिया. …