9 राज्यों में 5 दिन तक भारी बारिश, 48 घंटे में सक्रिय होगा चक्रवाती परिसंचरण, पर्वतों पर बर्फबारी तेज

नई दिल्ली

देश भर में एक बार फिर से मौसम में भारी बदलाव देखने को मिल रहा है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक 4 दिसंबर के आसपास दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक साइक्लोनिक सरकुलेशन बनने की संभावना जताई गई है। वहीं बंगाल की खाड़ी के मध्य भी एक चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है। बंगाल की खाड़ी और हनुमान सागर में बने इस चक्रवाती परिसंचरण का असर मौसम पर देखने को मिलेगा। पूर्वी लहर के कारण 4 से 5 दिनों के बीच अंडमान निकोबार दीप समूह, कर्नाटक, केरल तमिलनाडु लक्ष्यदीप में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

इसके अलावा उत्तर प्रदेश बिहार झारखंड सहित दिल्ली राजस्थान गुजरात में भी मौसम तेजी से बदल रहा है। हरियाणा में भी तापमान लुढ़क ने की चेतावनी जारी की गई है। पर्वतीय राज्य में बर्फबारी का दौर जारी है। उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश सहित गिलगिट, जम्मू कश्मीर में तापमान माइनस डिग्री में पहुंच गया है। हिम चोटी पर हो रहे हिमपात का असर मध्य भारत में देखने को मिलेगा। मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ सहित कई राज्यों में तापमान में गिरावट देखी जाएगी। हालांकि मौसम में यह बदलाव दिसंबर के दूसरे सप्ताह में देखा जाएगा।

राजधानी दिल्ली में तापमान में गिरावट
राजधानी दिल्ली में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। मंगलवार को दिल्ली में अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस पहुंचेगी। वायु गुणवत्ता को खराब कर दिया गया है। न्यूनतम तापमान में 3 डिग्री की कमी देखी गई है। न्यूनतम पारा 7 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है।

झारखंड में शीतलहर
झारखंड में पहाड़ों से आ रही शीतलहर का असर दिख रहा है। लगातार तापमान में गिरावट देखी जा रही है। कई जिलों में तापमान 8 डिग्री सेल्सियस के नीचे पहुंच गया है। राजधानी रांची में भी तापमान में गिरावट का दौर जारी है। शीतलहर की स्थिति जाहिर की गई है। दिसंबर के दूसरे सप्ताह से कोहरे और शीतलहर से मौसम पटा रहेगा।

UP में बढ़ेगा कोहरा
राजधानी लखनऊ में न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। लखनऊ सहित नोएडा और कोई क्षेत्रों में कोहरे और धुंध की दस्तक देखने को मिल रही है। ठंडी हवा चल रही है। जिसके कारण ठंड का अहसास बढ़ गया है।

पूरी राज्यों में बारिश की चेतावनी
पूरी राज्यों की बात करें तो उठाइए कर्नाटक लक्षदीप सहित मणिपुर मिजोरम और मेघालय में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।
दक्षिणी राज्यों में भारी बारिशदक्षिणी राज्यों की बात करें तो मौसम विभाग ने इस तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, केरल, पांडिचेरी, अंडमान निकोबार द्वीप समूह सहित कई जगह पर भारी बारिश की संभावना व्यक्त की है। चक्रवाती हवा के क्षेत्र होने के कारण इन क्षेत्रों में अगले चार से पांच दिनों तक बारिश का दौर जारी रहेगा जबकि उड़ीसा में न्यूनतम तापमान में तीन से पांच डिग्री की कमी देखी जाएगी।

इन क्षेत्रों में गरज चमक और बारिश
दक्षिणी प्रायद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में छिटपुट वर्षा की उम्मीद है
तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल और माहे में कुछ स्थानों पर वर्षा होने का अनुमान है।
उत्तर मध्य भारत और पूर्वी भारत में छिटपुट स्थानों पर सुबह के समय हल्का से मध्यम कोहरा दिखेगा।
राजस्थान में तापमान में गिरावट सहित शीतलहर रहेगी।
अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप में छिटपुट बौछारें पड़ने की संभावना है।

मध्य प्रदेश में शीतलहर
MP के कुछ स्थानों पर तापमान एक अंक तक गिरने की संभावना है।उमरिया में न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच सकता है। रायसेन और नौगांव में पहले ही 7.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा चुका है, जो राज्य में सबसे कम है। भोपाल, ग्वालियर चम्बल में तापमान 11 डिग्री सेल्सियस तक गिर जाएगा, दो-तीन दिनों में राज्य के कई हिस्सों में तापमान में और गिरावट आने वाली है।

औसत समुद्र तल से 1.5 किमी ऊपर तक फैले बंगाल की खाड़ी के मध्य भागों पर चक्रवाती परिसंचरण कम चिह्नित हो गया है। पूर्वानुमान के मुताबिक 4 दिसंबर के आसपास दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक ताजा चक्रवाती परिसंचरण बनने की संभावना जताई गई है इस सर्कुलेशन के कारण 4 दिसंबर और 5 दिसंबर को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह पर अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की भविष्यवाणी की गई है। 5 दिसंबर के दौरान भारत के अधिकांश हिस्सों में शुष्क मौसम पैदा करने के लिए उपमहाद्वीप पर उच्च दबाव प्रणाली तैयार होगी, जहां पूर्वी हवाओं के कारण अलग-अलग गरज के साथ बारिश होगी।

About bheldn

Check Also

दिल्ली दंगों से जुड़े राजद्रोह केस में शरजील इमाम को दिल्ली HC से मिली जमानत

नई दिल्ली, दिल्ली दंगा राजद्रोह मामले में शरजील इमाम को दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत दे …