दिल्ली में शनिवार को सभी सरकारी स्कूल बंद, MCD चुनाव के लिए प्रचार खत्म, अब 4 दिसंबर को वोटिंग

नई दिल्ली,

दिल्ली में 4 दिसंबर को नगर निगम चुनाव के लिए होने वाले मतदान का प्रचार शुक्रवार को समाप्त हो गया। दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के चुनाव प्रचार के दौरान आम आदमी पार्टी (आप) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कई प्रमुख नेताओं ने रोड शो किए। वोटिंग से पहले की तैयारियों के लिए दिल्ली में शनिवार को सभी सरकारी स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया गया है। चुनाव प्रचार के अंतिम दिन शुक्रवार को भाजपा नेताओं ने 200 से अधिक जनसभाएं और रोड शो किए, जबकि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 400 व्यापारियों के साथ एक टाउन हॉल जैसी बैठक की। भाजपा ने सड़क विक्रेताओं और फेरीवालों के साप्ताहिक बाजारों को नियमित करने की अपनी प्रतिबद्धता की भी घोषणा की।

दिल्ली में शनिवार को सरकारी स्कूल बंद, रविवार तक ड्राई डे
आप और कांग्रेस ने चुनाव प्रचार के दौरान मतदाताओं से कई वादे भी किए। केजरीवाल और सिसोदिया सहित आप के शीर्ष नेताओं ने शहरभर में जनसभाएं कीं और लोगों से पार्टी उम्मीदवारों को वोट देने का आग्रह किया। एमसीडी चुनावों के लिए प्रचार अभियान में भाजपा नेताओं ने केजरीवाल को कट्टर बेईमान करार दिया जबकि आप ने भाजपा को वीडियो बनाने वाली कंपनी करार दिया। कांग्रेस के पटपड़गंज नगर निगम उम्मीदवार के पक्ष में फिल्म अभिनेत्री और पार्टी नेता नगमा ने रोड शो किया। मतदान की तैयारियों के लिए 3 दिसंबर को दिल्ली में सरकारी स्कूल बंद रहेंगे। सरकार ने शुक्रवार से रविवार तक तीन दिन के लिए दिल्ली में शराब की बिक्री पर भी रोक लगा दी है। ये तीन दिन दिल्ली में ड्राई डे रहेंगे।

बीजेपी- आप में टक्कर के आसार
भाजपा 2007 से एमसीडी की सत्ता में है और चौथी बार सत्ता में आने की कोशिश कर रही है। भाजपा और आप दोनों ने 250 उम्मीदवार उतारे हैं, जबकि कांग्रेस केवल 247 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। पिछले कुछ हफ्तों में कई केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने पार्टी उम्मीदवारों के लिए प्रचार किया और आप पर निशाना साधा। हरदीप सिंह पुरी, पीयूष गोयल, अनुराग ठाकुर, मनोहर लाल खट्टर और पुष्कर सिंह धामी जैसे भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं ने प्रचार किया।

चुनाव प्रचार में खूब हुई तू-तू मैं-मैं
भाजपा पर पलटवार करते हुए, केजरीवाल ने कहा कि पार्टी ने अपने सात मुख्यमंत्रियों, एक उपमुख्यमंत्री और 17 केंद्रीय मंत्रियों को उनके जैसे आम आदमी पर हमला करने के लिए आमंत्रित किया। अपने प्रचार अभियान के तहत, आप ने दिल्ली के गाजीपुर, ओखला और भलस्वा में तीन कूड़े के पहाड़ों (लैंडफिल) को हटाने में उनकी विफलता को लेकर कई बार भाजपा पर निशाना साधा। आप और भाजपा दोनों ने विश्वास जताया है कि वे एमसीडी चुनावों में बहुमत के साथ जीत दर्ज करेंगे। जनता दल (यूनाइटेड), ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन, स्वराज इंडिया और बहुजन समाज पार्टी जैसी पार्टियां भी चुनाव मैदान में हैं। एमसीडी चुनाव के लिए मतगणना सात दिसंबर को होगी।

सुबह 04 बजे से चलेगी दिल्ली मेट्रो
दरअसल, 4 दिसंबर 2022 को होने वाले दिल्ली नगर निगम चुनाव 2022 मतदान के चलते कई तरह के फेरबेदल किए हैं जिनमें स्कूल की छुट्टी भी शमिल है. इसके अलावा, दिल्ली मेट्रो का टाइम टेबल भी बदला गया है. दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) के एक आधिकारिक बयान में कहा गया है: “मतदान के दिन, सभी लाइनों पर दिल्ली मेट्रो ट्रेन सेवाएं सुबह 4 बजे से सभी टर्मिनल स्टेशनों पर 30 मिनट की फ्रीक्यूएंसी के साथ सभी लाइनों पर सुबह 6 बजे तक शुरू होंगी. उसके बाद, उसके बाद पूरे दिन नियमित रविवार टाइम टेबल के अनुसार मेट्रो चलेगी. बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी एमसीडी चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार है, जो 4 दिसंबर को निर्धारित है. एमसीडी के 250 वार्डों के लिए कुल 13,665 मतदान केंद्रों पर चुनाव होंगे.

About bheldn

Check Also

संविधान का वो आर्टिकल जिस कारण राष्ट्रपति-राज्यपाल की नहीं होती गिरफ्तारी… अब SC क्यों करेगा रिव्यू

नई दिल्ली, क्या संविधान का आर्टिकल 361 किसी राज्यपाल के खिलाफ जांच करने से रोकता …