राजस्थान में बढ़ी गैंगवार, आंनदपाल गैंग के कट्टर दुश्मन गैंगस्टर राजू ठेहट की गोली मारकर हत्या

जयपुर

राजस्थान में एक बार फिर गैंगवार की बड़ी घटना सामने आई है। कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। करीब 3 महीने पहले ही वह जेल से छूटकर बाहर आया था। जेल से बाहर आने के बाद वह अपनी गैंग को बढ़ाता जा रहा था। शनिवार सुबह सीकर में सीएलसी कोचिंग के पास चार हथियारबंद बदमाशों ने राजू ठेहट को गोली मार दी और फरार हो गए। सूचना मिलने के तुरंत बाद पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे।

आनंदपाल गैंग का कट्टर दुश्मन था राजू ठेहट
पूर्व में राजस्थान में 2 गैंगस्टर के बीच लंबे समय तक वर्चस्व की लड़ाई लड़ी जा रही थी। आनंदपाल का जून 2017 में पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया था। उसके बाद राजू ठेहट का सीकर और आसपास के इलाकों में दबदबा हो गया था। विभिन्न संगीन अपराधों के कारण को पुलिस ने गिरफ्तार करके राजू ठेहट को गिरफ्तार करके जयपुर की सेंट्रल जेल में बंद किया था लेकिन 3 महीने पहले जेल से बाहर आया था।

लॉरेंस बिश्नोई की गैंग से भी थी दुश्मनी
आनंदपाल सिंह के अलावा लॉरेंस बिश्नोई गैंग से भी राजू ठेहट की दुश्मनी थी। वर्चस्व को लेकर इन गैंग में कई बार झगड़े भी हुए थे। शनिवार 3 दिसंबर की सुबह सीकर में राजू ठेहट की गोली मारकर हत्या कर दी गई। लॉरेंस बिश्नोई ग्रुप ने घटना के बाद हत्या की जिम्मेदारी ले ली है। रोहित गोदारा नाम से फेसबुक आईडी से हत्या के लिए जिम्मेदारी ली गई है। हत्या की जिम्मेदारी लेने वाले शख्स ने आनंदपाल और बलबीर बानूड़ा की हत्या का बदला लेने का इस पोस्ट में जिक्र किया है। रोहित गोदारा ने लिखा मैं लेता हूं हत्या की जिम्मेदारी बदला पूरा हुआ ।

About bheldn

Check Also

‘कुर्सी मुझे नहीं छोड़ रही है…’ तेलंगाना में दिए गहलोत के इस बयान ने फिर मचाई CM फेस को लेकर खलबली

जयपुर राजस्थान में विधानसभा चुनाव के मतगणना की 3 दिसंबर की तिथि पास आने के …