एसबीआई ने करोड़ों ग्राहकों को दिया झटका, महंगा कर दिया लोन, बढ़ जाएगी आपकी ईएमआई

नई दिल्ली

अगर आपने एसबीआई से लोन (SBI) लिया हुआ है, तो अब आपको बढ़ी हुई ईएमआई (EMI) चुकानी होगी। देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने लोन पर ब्याज दरों को बढ़ा दिया है। एसबीआई ने बुधवार को कहा कि वह सभी अवधियों के लिए अपनी मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड-बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) को 0.25 फीसदी बढ़ाएगा। एमसीएलआर में इस बढ़ोतरी से ग्राहकों की लोन ईएमआई बढ़ जाएगी। बैंक की वेबसाइट के अनुसार, नई ब्याज दरें 15 दिसंबर 2022 से प्रभावी हो जाएंगी। आरबीआई द्वारा रेपो रेट में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी करने के बाद बैंक्स अपनी एमसीएलआर को बढ़ा रहे हैं। रेपो रेट अब बढ़कर 6.25 फीसदी हो गई है।

आरबीआई ने पांचवीं बार बढ़ाई रेपो रेट
आरबीआई ने लगातार पांचवीं बार रेपो रेट में इजाफा किया है। केंद्रीय बैंक ने मई महीने में रेपो रेट में 0.40 फीसदी का इजाफा किया था। इसके बाद जून, अगस्त और सितंबर में रेपो रेट में 0.50 फीसदी का इजाफा किया गया। इस तरह मई 2022 से केंद्रीय बैंक प्रमुख ब्याज दरों में 2.25 फीसदी की बढ़ोतरी कर चुका है। इस ताजा बढ़ोतरी के बाद रेपो रेट या शॉर्ट टर्म लेंडिंग रेट 6 फीसदी को पार कर गई है। यह वह दर है, जिस पर बैंक आरबीआई से लोन लेते हैं। अब जब बैंकों के लिए आरबीआई से लोन महंगा हो रहा है, तो वे भी ग्राहकों के लिए लोन पर ब्याज दरें बढ़ा रहे हैं।

जानिए क्या हो गई हैं नई दरें
नई दर वृद्धि के बाद एसबीआई की एक दिन की अवधि वाली एमसीएलआर 7.60 फीसदी से बढ़कर 7.85 फीसदी हो गई है। एसबीआई की वेबसाइट के अनुसार, एक महीने और तीन महीने की अवधि के लिए एमसीएलआर 7.75 से बढ़कर 8 फीसदी हो गई है। वहीं छह महीने और एक साल की अवधि के लिए बैंक की एमसीएलआर 8.05 फीसदी से बढ़कर 8.30 फीसदी हो गई है। दो साल की अवधि के लिए एमसीएलआर 8.25 फीसदी से बढ़कर 8.50 फीसदी हो गई है। वहीं, तीन साल की अवधि वाली एमसीएलआर 8.35 फीसदी से बढ़कर 8.60 फीसदी हो गई है।

About bheldn

Check Also

उत्तराखंड और केरल ने किया टॉप, तमिलनाडु नंबर 2, यह कौन सी लिस्‍ट जिसमें बिहार फिसड्डी!

नई दिल्‍ली: उत्तराखंड और केरल नीति आयोग के टिकाऊ विकास सूचकांक 2023-24 में टॉप प्रदर्शन …