अमित शाह और ममता बनर्जी ने एक ही कार में किया 200 किमी का सफर, बीजेपी ने दी सफाई

कोलकाता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ मीटिंग की। शनिवार को दोनों अमित शाह की कार में 200 मीटर की दूरी तय कर नाबन्ना पहुंचे। जिसके बाद दोनों नेताओं ने मुख्यमंत्री के 14वीं मंजिल के कार्यालय में 15 मिनट तक आमने-सामने बातचीत की।

BJP ने दी सफाई
अमित शाह द्वारा बुलाई गई पूर्वी क्षेत्रीय सुरक्षा परिषद सत्र के मौके पर आयोजित बैठक ने ममता और शाह के बीच तनावपूर्ण संबंधों के मद्देनजर ध्यान आकर्षित किया, जो 2021 के विधानसभा चुनावों के बाद पहली बार एक मेज पर बैठे थे। हालांकि बैठक के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई थी, लेकिन भाजपा की बंगाल इकाई ने स्पष्टीकरण दिया कि शाह ने ममता से क्यों मुलाकात की।

सीएम ममता ने उठाया केंद्र द्वारा धन जारी नहीं करने का मुद्दा
बंगाल के हावड़ा में पूर्वी क्षेत्रीय परिषद (EZC) की 25 वीं बैठक के बाद सीएम ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ बंद कमरे में बैठक की। माना जा रहा है कि सीएम ममता बनर्जी ने 100 करोड़ रुपये के लिए केंद्र द्वारा धन जारी नहीं करने का मुद्दा उठाया। सीएम ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री को मनरेगा कार्यक्रम के तहत बकाया जारी करने के लिए केंद्र को भेजे गए पत्रों की प्रतियां भी सौंपी।

सुवेन्दु अधिकारी ने कहा, “विपक्ष के नेता के रूप में, मैंने अमित शाह से मुख्यमंत्री ममता के साथ उनकी चर्चा के बारे में पूछा। उन्होंने मुझे बताया कि ऑडिटोरियम में बैठक एजेंडा आधारित थी। उन्होंने मुख्यमंत्री से सीमा पर 72 बीएसएफ शिविरों के लिए जमीन देने का अनुरोध किया। उन्होंने बीएसएफ और राज्य पुलिस के बीच बेहतर समन्वय की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

CPM बोली- CBI से बचाने के लिए मीटिंग
सीपीएम के राज्य सचिव मोहम्मद सलीम ने बैठक को ममता द्वारा केंद्रीय एजेंसियों से भ्रष्टाचार के मामलों में आरोपी अपनी पार्टी के सहयोगियों को बचाने के लिए एक प्रयास करार दिया। कांग्रेस सांसद अधीर चौधरी ने दावा किया कि शाह और ममता ने चर्चा की कि भाजपा के खिलाफ 2024 लोकसभा चुनाव से पहले एकजुट विपक्ष की संभावना को कैसे रोका जाए।

सूत्रों ने बताया कि बैठक में सबसे पहला मुद्दा बीएसएफ की कार्यशैली को लेकर था। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीएसएफ पर अति सक्रियता के आरोप लगाए। गृह मंत्री ने बांग्लादेश सीमा पर बीएसएफ की गतिविधियों के बारे में बात की थी। साथ ही सीमा के रास्ते तस्करी का मामला भी चर्चा में आया।

सीएम बनर्जी ने अमित शाह को दिया उपहार
अमित शाह से मुलाकात के दौरान सीएम बनर्जी ने उन्हें एक शाल, एक साड़ी और खजूर का गुड़ उपहार में दिया। पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक सुबह 11 बजे से शुरू हुई। बैठक में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और ओडिशा के कैबिनेट मंत्री प्रदीप अमात शामिल हुए। बैठक करीब डेढ़ बजे खत्म हुई। बिहार और ओडिशा के मुख्यमंत्रियों ने अपनी अन्य भागीदारी के कारण EZC बैठक में भाग नहीं लिया।

About bheldn

Check Also

डॉक्टर ने नाम बदलकर रचाई शादी, फिर महिला का जबरन कराया धर्म परिवर्तन

सहारनपुर , सहारनपुर के थाना देवबंद पुलिस ने एक डॉक्टर को नाम बदल कर दूसरे …