बिहार में 10 हजार से ज्यादा पदों की भर्ती प्रक्रिया रद्द, कैबिनेट की बैठक में हुआ ये फैसला

पटना,

बिहार सरकार के राजस्व विभाग ने 2 महीने पहले भूमि सर्वेक्षण के काम के लिए 10,101 पदों पर अमीन, कानूनगो, सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी और विशेष सर्वेक्षण लिपिक में सीधी नियुक्ति के लिए विज्ञापन जारी किया था और आवेदन मांगे थे लेकिन अब राज्य सरकार ने अचानक से सभी पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया को रद्द कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक, 10101 पदों पर नियुक्ति के लिए सरकार ने जो विज्ञापन जारी किया था उसे भी निरस्त कर दिया गया है. पिछले दिनों बिहार कैबिनेट ने नियुक्ति की नई नियमावली को मंजूरी दे दी थी, जिसके बाद राजस्व विभाग ने इन पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया को निरस्त कर दिया है. अब नए सिरे से नए नियमावली के मुताबिक नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करने का फैसला लिया गया है.

नई नियमावली के अनुसार, इन सभी पदों पर नियुक्ति के लिए प्रतियोगी परीक्षा देनी होगी जिसे अब बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद (BCECE) द्वारा संचालित किया जाएगा. BCECE जल्द ही इन पदों पर नियुक्ति के लिए विज्ञापन जारी करेगा जिसमें योग्य अभ्यर्थी आवेदन कर सकेंगे और फिर प्रतियोगी परीक्षा होगी. मेरिट के आधार पर नियुक्ति के लिए उम्मीदवार का चयन किया जाएगा. गौरतलब है, राजस्व विभाग ने भूमि सर्वेक्षण के लिए 355 सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी, 758 कानूनगो, 8244 अमीन और 744 लिपिक पदों पर नियुक्ति होनी है.

बता दें कि पिछले दिनों राजस्व विभाग ने जो विज्ञापन निकाला था उसके मुताबिक अभ्यर्थियों का नियोजन तारीख 31 मार्च 2024 तक तय की गई थी. इसके लिए 21 अक्टूबर से 16 नवंबर के बीच विभाग ने वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन भी मंगवाया था और अंकों के आधार पर ही उम्मीदवार का चयन होना था मगर कैबिनेट में नई नियुक्ति नियमावली पास होने के बाद सभी 10,101 पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया फिलहाल रद्द कर दी है.

About bheldn

Check Also

चांद पर तो पहुंच गए लेकिन एमपी के इस गांव में पगडंडी और कपड़े की झोली वाली व्यवस्था देख हिल जाएंगे

बुरहानपुर: कहने को तो हमारी आजादी को 75 सालों से ज्यादा बीत गए हैं। हमने …