पुतिन विरोधी रूसी सांसद की भारत में रहस्यमयी मौत, मची खलबली

नई दिल्ली,

ओडिशा के रायगढ़ के एक होटल में दो रूसी नागरिकों की रहस्यमयी मौत से हड़कंप मचा हुआ है. मरने वालों में रूस के करोड़पति सांसद पावेल एंटोव भी बताए जा रहे हैं. खास बात है कि पावेल एंटोव को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का आलोचक भी कहा जाता है. कुछ समय पहले यूक्रेन मामले में भी उन्होंने विरोधी स्वर उठाए थे. हालांकि, बाद में उन्होंने सोशल मीडिया पर साफ कर दिया था कि वे पुतिन के ही समर्थक हैं और यूक्रेन से जंग में सरकार के साथ हैं.

वहीं रूस के जिस दूसरे नागरिक व्लादिमीर बिडेनोव की मौत हुई, वह पावेल एंटोव के दोस्त और पार्टी सहयोगी भी बताए जा रहे हैं. दोनों मृतक चार लोगों के एक समूह के साथ टूर पर भारत आए हुए थे. उनके साथ एक गाइड जितेंद्र सिंह भी था.

होटल में दो दिनों में दो रूसी नागरिकों की रहस्यमयी मौत
ओडिशा पुलिस के अनुसार, शनिवार को 65 वर्षीय रूसी नेता और कारोबारी पावेल एंटोव की होटल की तीसरी मंजिल से नीचे गिरकर मौत हो गई थी. होटल स्टाफ को खून से लथपथ हालत में उनका शव मिला था. इससे ठीक एक दिन पहले एंटोव के सहयात्री और दोस्त व्लादिमीर बिडेनोव उसी होटल की पहली मंजिल के कमरे में बेहोशी की हालत में मिले थे. उनके पास कुछ शराब की खाली बोतलें भी पड़ी हुई थीं.

होटल से व्लादिमीर बिडेनोव को आनन-फानन में नजदीकी जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. फिलहाल दोनों मामलों की पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. पावेल एंटोव की मौत को लेकर शुरुआती जांच में पुलिस का मानना है कि यह आत्महत्या हो सकती है, क्योंकि वे व्लादिमीर बिडेनोव की मौत के बाद से काफी दुखी थे.

वहीं, व्लादिमीर बिडेनोव की मौत को लेकर गाइड ने पत्रकारों से बताया कि मौत से ठीक पहले उन्होंने काफी ज्यादा शराब पी रखी थी.ओडिशा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी विवेकानंद शर्मा ने भी दोनों मामलों को लेकर जानकारी दी. उन्होंने कहा कि शुक्रवार को व्लादिमीर बिडेनोव को स्ट्रोक आया था, जबकि उनके दोस्त पावेल एंटोव उनकी मौत से काफी दुखी थे, जिसके बाद उनकी भी मौत हो गई.

भारत में रूसी दूतावास की ओर से दिया गया बयान
दूसरी ओर, भारत में रूसी दूतावास ने भी इस मामले में अपनी प्रतिक्रिया दी है. एनडीटीवी से बात करते हुए रूसी दूतावास की ओर से कहा गया कि, रूस के दो नागरिकों की मौत के मामले में दूतावास अवगत है. दूतावास मृतकों के परिजनों के साथ लगातार संपर्क में है, साथ ही ओडिशा के स्थानीय अधिकारों से भी संपर्क बना हुआ है.

दूतावास की ओर से आगे कहा गया कि जहां तक हमें पता चला है कि पुलिस इन मामलों को अपराधिक घटना के तौर पर नहीं देख रही है.बता दें कि बुधवार को व्लादिमीर बिडेनोव और पावेल एंटोव ने ओडिशा के रायगढ़ के होटल में चेक इन किया था. इन दोनों के साथ दो अन्य रूसी यात्री और गाइड जितेंद्र सिंह भी था.

दोनों की मौत को लेकर क्या कह रहा रूस का स्थानीय मीडिया 
बीबीसी के अनुसार, रूस की स्थानीय मीडिया में एंटोव की मौत को लेकर कहा जा रहा है कि वे होटल रूम की खिड़की से नीचे गिर गए, जिससे उनकी मौत हो गई. साथ ही एंटोव की मौत से ठीक एक दिन पहले ही उनके सहयात्री व्लादिमीर बिडेनोव की होटल में रहस्यमयी हालत में मौत हो गई थी.

यूक्रेन जंग के बीच एंटोव ने की थी पुतिन की आलोचना
बीते जून में जब यूक्रेन की राजधानी कीव में रूसी मिसाइल अटैक हुआ तो उसमें एक पिता और सात वर्षीय बच्ची की मौत हो गई थी. वहीं बच्ची की मां बुरी तरह घायल हो गई थी. जिसके बाद एंटोव की ओर से एक प्रतिक्रिया ने खलबली मचा दी थी.

पावेल एंटोव का एक व्हाट्सएप मैसेज वायरल हो गया था, जिसमें उन्होंने मिसाइल अटैक के शिकार हुए परिवार का जिक्र किया था. हालांकि, कुछ ही समय बाद वह मैसेज डिलीट कर दिया गया. वहीं सोशल मीडिया पर एंटोव ने लिखा था कि वे खुद राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के समर्थक हैं.

About bheldn

Check Also

संविधान का वो आर्टिकल जिस कारण राष्ट्रपति-राज्यपाल की नहीं होती गिरफ्तारी… अब SC क्यों करेगा रिव्यू

नई दिल्ली, क्या संविधान का आर्टिकल 361 किसी राज्यपाल के खिलाफ जांच करने से रोकता …