मुझे झूठे मामले में फंसाया गया, न्यायपालिका पर पूरा भरोसा… जेल से बाहर आकर बोले अन‍िल देशमुख

मुंबई

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को बुधवार शाम लगभग पांच बजे मुंबई की आर्थर रोड जेल से जमानत पर रिहा कर दिया गया। बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की ओर से दर्ज भ्रष्टाचार के एक मामले में उन्हें जमानत देने संबंधी अपने आदेश पर रोक लगाने से मंगलवार को इनकार कर दिया था। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता देशमुख (73) नवंबर 2021 से जेल में थे। जब प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उन्हें एक कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था।

एनसीपी नेता अजित पवार सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने अन‍िल देशमुख के जेल के बाहर स्वागत किया। इस दौरान अन‍िल देशमुख ने कहा क‍ि मुझे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। मुझे एक झूठे मामले में फंसाया गया है। जस्‍ट‍िस एम. एस. कार्णिक ने एनसीपी नेता को 12 दिसंबर को जमानत दी थी, लेकिन सीबीआई ने इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने के लिए समय मांगा था और अदालत ने आदेश पर 10 दिन के लिए रोक लगा दी थी।

जांच एजेंसी ने कोर्ट का रुख किया, लेकिन उसकी अपील पर जनवरी 2023 में ही सुनवाई हो सकेगी, क्योंकि अदालत में शीतकालीन अवकाश है। हाईकोर्ट ने पिछले सप्ताह सीबीआई के अनुरोध पर जमानत आदेश पर रोक को 27 दिसंबर तक बढ़ा दिया था। जांच एजेंसी ने मंगलवार को एक बार और रोक बढ़ाने का अनुरोध किया था। देशमुख के वकील अनिकेत निकम और इंद्रपाल सिंह ने दावा किया था कि सीबीआई हाईकोर्ट के पहले के आदेश को विफल करने का प्रयास कर रही है, जिसने कहा था कि किसी भी परिस्थिति में जमानत आदेश पर रोक नहीं बढ़ाई जाएगी।

About bheldn

Check Also

डॉक्टर ने नाम बदलकर रचाई शादी, फिर महिला का जबरन कराया धर्म परिवर्तन

सहारनपुर , सहारनपुर के थाना देवबंद पुलिस ने एक डॉक्टर को नाम बदल कर दूसरे …