गहलोत और सचिन पायलट का विवाद मैं निपटाऊंगा, जानिए कांग्रेस की कलह को कौन सुलझाएगा

जयपुर

राजस्थान के नए कांग्रेस प्रभारी सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने दावा किया है कि वे अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच के विवाद को जल्द निबटा देंगे। जयपुर में मीडिया से बात करते हुए सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने कहा कि अब मैं आ गया है। सभी नेताओं से फीडबैक ले रहा हूं। गुरुवार रात को मंत्रियों से फीडबैक लिया और अन्य नेताओं से भी बात कर ली है। रंधावा ने कहा कि वे किसी फाइव स्टार होटल में नहीं बैठे हैं। रोज कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के बीच ही रहते हैं और सबसे सुझाव ले रहे हैं। गहलोत और पायलट विवाद पर रंधावा ने कहा कि संगठन को मजबूत करना उनका काम है। सभी से सुझाव लेने के बाद इस विवाद का हल निकाल लेंगे।

सर्वे के बाद दिए जाएंगे विधानसभा चुनाव के टिकट
कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने कहा कि विधानसभा चुनावों से पहले सभी विधानसभाओं में सर्वे कराया जाएगा। सर्वे से पता किया जाएगा कि उस क्षेत्र में किस नेता का प्रभाव ज्यादा है। कौन कांग्रेस पार्टी में रहते हुए कार्यकर्ताओं और जनता के बीच रहा। सर्वे से यह पता किया जाएगा कि कौनसा नेता पार्टी की झोली में जीत डाल सकता है। पार्टी के प्रति समर्पित रहकर जनता की सेवा करने वाले जिताऊ नेता का नाम आलाकमान को भेजा जाएगा। विधानसभा चुनाव में टिकट का अंतिम निर्णय आलाकमान को करना है।

दो दिनों में होंगी संगठनों में रिक्त पदों पर नियुक्तियां
जुलाई 2020 में जब सचिन पायलट गुट ने बगावती तेवर दिखाए थे, तब से संगठन में ब्लॉक और जिला संगठन के पद रिक्त चल रहे हैं। पिछले ढाई साल में प्रदेश अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ब्लॉक और जिला लेवल पर नियुक्तियां नहीं कर सके। अब प्रदेश प्रभारी सुखजिन्दर रंधावा ने दावा किया है कि रिक्त पदों पर नियुक्तियों के लिए वे तेजी से काम कर रहे हैं। आने वाले दो दिन में रिक्त पदों पर नियुक्तियां करने का दावा किया है। वर्तमान में 400 ब्लॉक अध्यक्ष, 26 जिला अध्यक्ष और 2200 मंडल अध्यक्षों के पद रिक्त हैं जिन पर नियुक्तियां होनी है। इन पदों पर नियुक्तियों के बाद कार्यकारिणी पदों पर भी नियुक्तियां होंगी।

संगठन में निष्ठा जरूरी, व्यक्तिगत निष्ठा से पार्टियां नहीं चलती रघु शर्मा
पूर्व मंत्री डॉ. रघु शर्मा भी गुरुवार रात को कांग्रेस के वार रूम में पहुंचे। फीडबैक बैठक के बाद रघु शर्मा ने कहा कि अशोक गहलोत और सचिन पायलट मुद्दे पर वे मीडिया के सामने कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। जो भी हो रहा है. पार्टी आलाकमान सब देख रहे हैं। जो भी निर्णय लेना है, आलाकमान को ही लेना है। डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि सभी नेताओं को पार्टी में निष्ठा रखनी चाहिए। पार्टी में निष्ठा रखना बेहद जरूरी है, व्यक्तिगत निष्ठा से पार्टियां नहीं चलती।

About bheldn

Check Also

जामताड़ा: जान बचाने के लिए यात्री एक ट्रेन से कूदे, दूसरी की चपेट में आए, हादसे में 12 की मौत

जामताड़ा, झारखंड के जामताड़ा से बड़ी खबर आ रही है. जामताड़ा और विद्यासागर स्टेशन के …