पीएम मोदी की मां का निधन, जानें कौन-कौन है परिवार में और कहां-क्या काम करते हैं

नई दिल्ली,

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीरा बा का शुक्रवार को निधन हो गया. हीरा बा 100 साल की थीं. हीरा बा ने गुजरात के अहमदाबाद के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली. हीरा बा को मंगलवार शाम को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. बुधवार को पीएम मोदी भी अपनी मां से मिलने गए थे. हीरा बा ने बेटे के प्रधानमंत्री होने के बावजूद बेहद साधारण जीवन जिया. पीएम मोदी के बाकी भाई-बहन भी हमेशा लाइमलाइट से दूर ही रहते हैं. आइए जानते हैं पीएम मोदी के परिवार में कौन-कौन हैं और सभी लोग क्या करते हैं.

नरेंद्र मोदी के पिता दामोदर दास मोदी के कुल 5 भाई थे-नरसिंह दास, नरोत्तम दास, जगजीवन दास, जयंतीलाल, कांतिलाल. जयंती लाल शिक्षक के रूप में रिटायर्ड हुए थे. जयंती लाल की बेटी लीना बेन के पति विसनगर में बस कंडक्टर थे.पीएम मोदी की मां हीरा बा की शादी दामोदरदास मूलचंद मोदी से हुई थी. हीराबेन और दामोदरदास मोदी की 6 संतानें हुईं. पीएम मोदी तीसरे नबंर पर हैं. हीराबेन की बाकी संतानों में शामिल हैं- अमृत मोदी, पंकज मोदी, प्रह्लाद मोदी, सोमा मोदी और बेटी वासंती बेन हंसमुखलाल मोदी.

वासंतीबेन पीएम मोदी की इकलौती बहन हैं. वासंतीबेन का जिक्र भी मीडिया में बहुत कम ही होता है. वासंतीबेन के पति का नाम हसमुख भाई है. हसमुख भाई LIC में थे. हीरा बा की तरह वासंतीबेन भी हाउसवाइफ हैं. वसंतीबेन 5 भाईयों की इकलौती बहन हैं. पीएम मोदी के सबसे बड़े भाई का नाम सोमा मोदी है. वह हेल्थ डिपार्टमेंट में कार्यरत थे और अब रिटायर हो चुके हैं. वह अब अहमदाबाद में एक ओल्ड ऐज होम चलाते हैं और समाज सेवा करते हैं.

मोदी के दूसरे बड़े भाई का नाम है अमृत भाई मोदी. वे अहमदाबाद में रहते हैं. इनकी पत्नी का नाम चंद्रकांता बेन है. अमृत भाई कभी लेथ मशीन ऑपरेटर थे. अब वो अहमदाबाद के घाटलोदिया इलाके में चार कमरों के मकान में रिटायरमेंट वाली जिंदगी जी रहे हैं. उनके साथ उनका बेटा संजय, उसकी पत्नी और बच्चे रहते हैं. संजय छोटा-मोटा कारोबार चलाते हैं और अपनी लेथ मशीन पर छोटे कल-पुर्जे बनाते हैं. अमृत भाई मोदी के बाद तीसरे नंबर पर खुद पीएम नरेंद्र मोदी आते हैं. नरेंद्र मोदी अपने भाई सोमाभाई और अमृतभाई से छोटे हैं और प्रह्लाद व पंकज भाई से बड़े.

पीएम मोदी से छोटे भाई का नाम प्रह्लाद मोदी है. अहमदाबाद में वे फेयर प्राइस दुकान चलाते हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उनका टायर शो रूम भी है. प्रह्लाद मोदी की पत्नी भगवतीबेन मोदी का 2019 में हार्ट अटैक के चलते निधन हो गया था. हाल ही में प्रह्लाद मोदी की गाड़ी का एक्सीडेंट भी हुआ है. वह अपने परिवार के साथ मैसूर से बांदीपुरा की तरफ जा रहे थे. दुर्घटना के समय गाड़ी में प्रह्लाद मोदी के साथ उनके बेटे, बहू समेत उनके पोते भी थे. प्रह्लाद मोदी की बात करें तो वे राजनीति से हमेशा दूर रहे हैं, लेकिन सामाजिक कामों में उन्होंने खुद को व्यस्त रखा है. वे All India Fair Price Shop Dealers’ Federation (AIFPSDF) के वाइस प्रेसिडेंट हैं और उनकी तरफ से कई मौकों पर राशन के ज्यादा दाम वाला मुद्दा उठाया गया है. बताया जाता है कि मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री हुआ करते थे, उस समय भी प्रह्लाद की तरफ से इस मुद्दे को उठाया गया था. मोदी के सबसे छोटे भाई का नाम पंकज भाई है. पंकज गांधीनगर में रहते हैं. इनकी पत्नी का नाम सीताबेन है. पंकज सूचना विभाग से रिटायर्ड हुए हैं. मां हीराबेन पंकज के साथ ही रहती थीं.

नरेंद्र मोदी के सगे चाचा नरसिंह दास मोदी के बेटे भरत भाई मोदी वडनगर से 65 किमी दूर पेट्रोल पंप पर काम करते हैं. इसके अलावा नरेंद्र मोदी के बाकी कजन भाई भी अलग-अलग कार्यों में लगे हुए हैं. पीएम मोदी का परिवार हमेशा से ही लाइमलाइट से दूर रहता है. इसकी तारीफ करते हुए एक बार पीएम मोदी ने कहा था कि मेरे भाई और भतीजे काफी साधारण जीवन जी रहे हैं और कभी भी मुझ पर दबाव बनाने की कोशिश नहीं की. आज की दुनिया में ऐसा वाकई दुर्लभ है.

About bheldn

Check Also

लोकसभा चुनाव से पहले मायावती को बड़ा झटका, BSP छोड़ने की तैयारी में सभी 10 सांसद?

लखनऊ: लोकसभा चुनाव से पहले देश के सबसे बड़े सियासी सूबे उत्तर प्रदेश में पूर्व …