दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़ा बिहार शराब कांड का मास्टर माइंड रामबाबू महतो

नई दिल्ली

बिहार जहरीली शराब कांड में करीब 80 लोगों की मौत के बाद से फरार मास्टरमाइंड रामबाबू महतो को दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने शुक्रवार देर रात गिरफ्तार कर लिया। दिल्ली पुलिस ने द्वारका इलाके में बिहार के सारण में हुए शराब कांड के मास्टर माइंड रामबाबू महतो (35) को गिरफ्तार करने के बाद आगे की कार्रवाई तेज कर दी है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस बारे में कहा है कि सरकार इस पूरे मामले पर पैनी नजर बनाए हुए है। राज्य के ज्यादातर लोग शराबबंदी के साथ हैं। उन्होंने कहा कि जहरीली शराब कांड पर कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।

आरोपी रामबाबू के खिलाफ बिहार में सात से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं। बिहार शराब कांड पर पुलिस कार्रवाई तेज होने के बाद वह फरार होकर दिल्ली में छुप गया था। रामबाबू महतो के बारे में दिल्ली पुलिस अपराध शाखा में तैनात इंस्पेक्टर संजय कुमार की टीम को गुप्त सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस टीम ने आरोपी रामबाबू को छापेमारी कर दबोच लिया। दिल्ली पुलिस इस मामले में बिहार पुलिस के साथ आगे की कार्रवाई कर रही है।

जानकारी के मुताबिक बिहार के सारण जिले में आरोपी रामबाबू महतो ने शराबबंदी कानून को धता बताते हुए केमिकल डालकर नकली शराब तैयार कर उसका कारोबार शुरू कर दिया था। छपरा में नकली शराब बनाने के आरोपी राम बाबू महतो की गिरफ्तारी की सूचना बिहार पुलिस को दे दी गई है। बिहार पुलिस जल्द ही आरोपी राम बाबू को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर पूछताछ कर सकती है।

बिहार के छपरा में बीते दिनों जहरीली शराब पीने से 80 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। इसके साथ ही शराब के बुरे असर के चलते कई लोगों के आंखों की रोशनी भी चली गई थी। इस घटना के बाद बिहार पुलिस ने सारण, मुजफ्फरपुर, सिवान, बेगूसराय वगैरह कई जिलों में नकली शराब के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी। बिहार पुलिस से इस मामले में दर्जन भर से ज्यादा आरोपियों को गिरफ्तार भी किया था। इसके बीच सारण जहरीली शराबकांड का मास्टरमाइंड रामबाबू महतो फरार हो गया था। इस मामले के सामने आने के बाद सरकार ने सारण में इसुआपुर थाना प्रभारी और चौकी प्रभारी समेत एक और पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया था।

मुआवजा को लेकर Politics जारी
बिहार शराब कांड के सामने आने के बाद मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग को लेकर विपक्ष ने सीएम नीतीश कुमार पर सड़क से सदन तक हमला बोला हुआ है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में साफ कर दिया है कि सरकार मुआवजा नहीं देगी। उन्होंने कहा था कि पीएगा तो मरबे करेगा। उन्होंने बिहार में शराबबंदी कानून का हवाला देते हुए कहा था कि वह कानून तोड़ने वालों के साथ कोई दया नहीं दिखाएंगे।

About bheldn

Check Also

दिग्गज वकील और पूर्व ASG फली एस नरीमन का निधन, 95 साल की उम्र में ली आखिरी सांस

नई दिल्ली, सुप्रीम कोर्ट के दिग्गज वकील और देश के पूर्व ASG फली एस नरीमन …