मस्क ने हद कर दी! टॉयलेट पेपर लेकर ऑफिस आने को मजबूर हुए ट्विटर के कर्मचारी

नई दिल्ली

ट्विटर खरीदने के बाद से ही एलन मस्क की आर्थिक हालात खस्ताहाल होती जा रही है। ट्विटर के खर्च को बोझ को कम करने के लिए पहले एलन मल्क से कर्मचारियों की छंटनी की, फिर उसके बाद ऑफिस से सामानों को बेचना शुरू कर दिया। ट्विटर के खर्च को कम करने के लिए तो मस्क ने तो अब हद ही कर दी है। एलन मल्क से खर्च को कम करने के लिए ऑफिस में टॉयलेट पेपर तक की सुविधा को खत्म कर दी है। हालात ये है कि कर्मचारियों को अपना टॉयलेट पेपर लेकर ऑफिस आना पड़ रहा है।

टॉयलेट पेपर लेकर आए कर्मचारी
एलन मस्क ने हाल ही में ट्विटर के कई एम्प्लॉइज को बाहर का रास्ता दिखा दिया। एक के बाद एक ट्विटर की पॉलिसी में फेरबदल कर दिए। ट्विटर के ऑफिस में कई सर्विसेस को बंद कर दी। डेटा सेंटर बंद करने का फरमान सुना दिया। मस्क ने ट्विटर के खर्चों को कम करने के लिए ऑफिस के किराए, सर्विसेस, किचन सर्विस, कर्मचारियों को मिलने वाले खर्चों को बंद कर दिया है। अब उन्होने ऑफिस की चौकीदार और सुरक्षा सेवाओं में भी कटौती कर दी है। हालात ऐसे हो गए हैं कि ट्विटर के सैन फ्रांसिस्को स्थिति दफ्तर में चारों ओर गदंगी का अंबार है। बदबू और सड़न के कारण काम करना मुश्किल हो रहा है। टॉयलेट में हैंडवॉश और टॉयलेट पेपर जैसी जरूरी चीजें उपलब्ध नहीं है।

कर्मचारियों को टॉयलेट यूज करने के लिए अपने घर से टॉयलेट पेपर लेकर आना पड़ रहा है। न्यूयार्क टाइम्स के मुतबिक ट्विटर के ऑफिसों से सिक्योरिटी कम कर दी गई है। खर्च कम करने के लिए चौकीदार हटा दिए गए हैं। ऑफिस मेंटिनेंस एजेंसियों का बकाया नहीं चुकाया जा रहा है, जिसके कारण वहां साफ-सफाई नहीं हो पा रही है। गंदगी के बीच लोग काम करने के लिए मजबूर हैं। मस्क के इस फैसलों के कारण कर्मचारियों को ऑफिस में टॉयलेट पेपर लेकर पहुंचना पड़ रहा है। मस्क लगातार खर्चों की कटौती पर काम कर रहे हैं।

About bheldn

Check Also

किसान आंदोलन का साइड इफेक्ट, एशिया के सबसे बड़े कपड़ा बाजार में कारोबार ठप

नई दिल्ली, किसान आंदोलन- 2 का असर अब कारोबार पर दिखने लगा है. क्योंकि कई …