तेजस्वी यादव से भी गरीब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार… कैबिनेट के बाकी मंत्री करोड़ों में खेलते हैं

पटना

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके कैबिनेट सहयोगियों ने प्रतिबद्धताओं के अनुरूप अपनी व्यक्तिगत संपत्ति और देनदारियों की घोषणा की है। सत्ता में आने के बाद से ही मुख्यमंत्री ने सार्वजनिक जीवन में पारदर्शिता लाने के लिए सभी मंत्रियों के लिए प्रत्येक कैलेंडर वर्ष के अंतिम दिन अपनी संपत्ति और देनदारियों का खुलासा करना अनिवार्य कर दिया है। जानकारी के मुताबिक नीतीश की संपत्ति की ज्यों की त्यों बनी हुई है। विवरण के अनुसार, सीएम के पास केवल 28,135 रुपये नकद हैं, जबकि उनकी कुल अचल संपत्ति 58.85 लाख रुपये है। जैसा कि उन्होंने पिछले साल 31 दिसंबर को घोषित किया था। हालांकि, इस साल उनके इकलौते बेटे निशांत की संपत्ति की घोषणा नहीं की गई।

तेजस्वी और तेज प्रताप नीतीश से अमीर
दूसरी ओर, उपमुख्यमंत्री और राजद विधायक तेजस्वी प्रसाद यादव की घोषणा के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2021-2022 में कुल आय 3,76,090 रुपये थी। इसी तरह, तेजस्वी के पास उनकी पत्नी राजश्री के 1.25 लाख रुपये के मुकाबले लगभग 75,000 रुपये नकद हैं। तेजस्वी ने 5.38 लाख रुपये के शेयर खरीदे हैं, उनके पास 9.53 लाख रुपये के आभूषण और 2.25 करोड़ रुपये से अधिक की अचल संपत्ति है। तेजस्वी के भाई और पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री, तेज प्रताप यादव के पास 1.07 लाख रुपये नकद हैं, उन्होंने बांड/डिबेंचर/शेयरों में 29.80 लाख रुपये का निवेश किया है, 15.45 लाख रुपये की मोटरसाइकिल, 29 रुपये की बीएमडब्ल्यू कार .43 लाख, 4.60 लाख रुपये के आभूषण और 1.76 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति। तेजस्वी और तेज प्रताप दोनोंराजद प्रमुख लालू प्रसाद के बेटे हैं।

कैबिनेट में करोड़ी मंत्रियों की भरमार
मुख्यमंत्री नीतीश के कैबिनेट में बाकी मंत्री करोड़ों में खेलते हैं। उनकी संपत्ति में जबरदस्त इजाफा हुआ है। नीतीश की करीबी मंत्री खाद्य उपभोक्ता संरक्षण मंत्री लेसी सिंह के पास एक करोड़ रुपये से अधिक की अचल संपत्ति है। लेसी सिंह के पास रायफल के अलावा 12 बोर की बंदूक भी है। लेसी सिंह के नाम से 1.5 करोड़ रुपये की कीमत के 10 प्लॉट भी बुक हैं। कुल मिलाकर लेसी सिंह अपने मुख्यमंत्री से ज्यादा संपत्ति की मालकिन हैं। वहीं, नीतीश कुमार के दाहिने हाथ माने जाने वाले जल संसाधन मंत्री संजय झा के पास करोड़ों की संपत्ति है। संपत्ति में उनकी पत्नी के नाम से 5.25 करोड़ रुपये की एफडी है। जिसमें अन्य जमा भी शामिल है।

नीतीश के मंत्री करोड़पति
उधर, सरकार के उद्योग मंत्री समीर महासेठ के पास 7 करोड़ रुपये की संपत्ति है। बिहार सरकार में समीर महासेठ को शाहनवाज हुसैन के बाद उद्योग मंत्री बनाया गया था। महासेठ के पास एफडी भी है। वहीं, सरकार में शिक्षा मंत्री बने डॉ. चंद्रशेखर के पास 1.96 करोड़ रुपए की संपत्ति है। पिछड़ा एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनीता देवी के पास 1.24 करोड़ रुपये की संपत्ति है। उन्होंने जो जानकारी दी है, उसके मुताबिक उनके पास खेती की एक करोड़ रुपये कीमत वाली जमीन है। बिहार सरकार में समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी के पास ढाई करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति है। भवन निर्माण मंत्री और पूर्व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी पांच करोड़ रुपये से ज्यादा के मालिक हैं। कला संस्कृति मंत्री जितेंद्र राय के पास साढ़े तीन करोड़ से ज्यादा की जमीन और मकान है।

About bheldn

Check Also

केके पाठक को लेकर बिहार विधानसभा में फिर हंगामा, राबड़ी देवी ने भी उठाए सवाल

पटना, बिहार विधानसभा में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक को लेकर गुरुवार …